Asianet News HindiAsianet News Hindi

मजबूरी: भोजपुरी का विरोध करने वाली JMM 'ठीक है' से यूं बना रही है चुनावी माहौल

कई मौकों पर बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों का विरोध करने वाले झामुमो का विधानसभा चुनाव 2019 में सुर गया है। बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के मतदाताओं को लुभाने के लिए पार्टी ने भोजपुरी गीतों का सहारा लिया है।
जिसमें गीत के बोल हैं- रांची से चलके दिल्ली तक सुशासन को लाएंगे, रघुवर सरकार हटाएंगे, ठीक है...!

Compulsion: JMM opposing Bhojpuri is creating electoral atmosphere by famous song THIK HAI.
Author
Jamshedpur, First Published Nov 5, 2019, 4:17 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जमशेदपुर. विधानसभा चुनाव 2019 में झारखंड मुक्ति मोर्चा के सुर बदले-बदले से लग रहे हैं। कई मौकों पर बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों का विरोध करने वाले झामुमो ने प्रदेश के अलग अलग शहरों में रह रहे बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के मतदाताओं को लुभाने के लिए पार्टी ने भोजपुरी गीतों का सहारा लिया है। जिसमें झामुमो ने भोजपुरी के सुपरहिट गायक व अभिनेता खेसारी लाल के फेमस गीत- 'ठीक है...' के पैरोडी का प्रयोग किया जा रहा है। झामुमो द्वारा बनवाया गया यह पैरोडी तेजी से वायरल हो रहा है। 

हेमंत सरकार बनाएंगे, ठीक है...!

तारिखों के सामने आने के बाद से गर्माए सियासी महौल के बीच भोजपुरी के लोकप्रिय गीत पर बनाया गया पैरोडी गीत जोरो से गूंज रहा है। जिसमें गीत के बोल हैं- रांची से चलके दिल्ली तक सुशासन को लाएंगे, रघुवर सरकार हटाएंगे, हेमंत सरकार बनाएंगे, ठीक है...। जनता बेहाल भइल, रोजी रोजगार गइल, झूठ-झूठ वादा करके, छले वाला काम भइल...। 

पूर्ण बहुमत की बनाए सरकार 

झामुमो भोजपुरी गीत के माध्यम से रघुवर सरकार को घेर रही है। साथ ही इस बात का भरोसा दिया जा रहा कि राज्य में हेमंत सोरेन की सरकार बनी, तो युवाओं को रोजगार मिलेगा। इस गीत में भूमि अधिग्रहण बिल का उल्लेख करते हुए झारखंडियों के स्थाईकरण का वादा किया गया है। झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन को पूर्ण बहुमत दिलाने की अपील गीत के माध्यम से की जा रही है। आपको बता दें कि बिहार से झारखंड को अलग किए जाने के के आंदोलन व राज्य बनने के बाद झामुमो नेताओं ने सार्वजनिक तौर पर बाहरी लोगों पर जमकर निशाना साधा था। 2001 में हुए डोमिसाइल आंदोलन में भी झामुमो ने इन्हें 'बाहरी' कहकर विरोध किया था। इस कारण झामुमो का यह भोजपुरिया प्रेम मौजूदा हालात में चर्चा का विषय बना हुआ है। 

बीजेपी की आरोप- झामुमो की नई पैतरेबाजी

झामुमो के उमड़े भोजपुरिया प्यार पर भाजपा महानगर अध्यक्ष दिनेश कुमार ने कहा कि यह सब वोट की राजनीति है। कल तक बिहारियों व यूपी के लोगों को बाहरी कहने वाले आज वोट हासिल करने के लिए नया पैंतरा शुरू किया है। डोमिसाइल आंदोलन में झामुमो के लोगों की भूमिका से लोग भली-भांति परिचित हैं। राज्य में रघुवर की लहर चल रही है। इससे उबरने के लिए विपक्षी दल अपना रंग बदलने लगे हैं। वहीं, झामुमो के केंद्रीय प्रवक्ता मनोज यादव ने कहा कि झामुमो को किसी भी व्यक्ति या भाषा से बैर नहीं है। भाजपा सिर्फ झूठ- प्रोपगंडा फैलाती है। भाजपाई बताएं कि क्या यहां रह रहे दूसरे राज्यों के लोगों को कभी झारखंड से भगाया गया है। समाज के लिए जो गलत करेंगे उसे तो दीकू कहा ही जाएगा। नौकरी में झारखंड में रहने वाले सभी वर्ग को प्राथमिकता मिले झामुमो इसका शुरू से पक्षधर रहा है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios