Asianet News HindiAsianet News Hindi

34वें नेशनल गेम्स घोटालाः झारखंड में ताइक्वांडो के पूर्व अध्यक्ष के घर CBI की रेड, सुबह 6 बजे कि छापेमारी

झारखंड में वर्ष 2009 में हुए 34वें राष्ट्रीय खेल घोटालें में सीबीआई सबूत जुटाने के लिए मामलें से जुड़े लोगों के यहां छापेमारी कर रही है। शुक्रवार 19 अगस्त के दिन ताइक्वांडो के पूर्व अध्यक्ष के घर की गई छापेमारी। सुबह 6 बजे से घर में डॉक्यूमेंट तलाशे जा रहे है।

dhanbad news CBI raid at former Taekwondo president house doing investigation on scam related to 34th national games asc
Author
Dhanbad, First Published Aug 19, 2022, 5:30 PM IST

धनबाद (झारखंड). झारखंड में सीबीआई की दबिश बढ़ गई है। पहले 26 और 27 मई 2022 को देशभर में सीबीआई ने 18 ठिकानों पर छापेमारी की थी। अब CBI ने धनबाद में रेड किया है। इस खबर के बाद प्रदेश में हड़कंप मचा है। 34वें राष्ट्रमंडल खेल में हुए घोटाले को लेकर सीबीआई की टीम सबूत जुटाने में लगी हुई है। इस घोटाले से धनबाद का भी कनेक्शन जुड़ा हुआ है, क्योंकि 34वें राष्ट्रमंडल खेल में पांच प्रतियोगिताओं का आयोजन यहीं पर हुआ था। इसी क्रम में केंद्रीय जांच एजेंसी ने बैंक मोड़ थाना क्षेत्र के टेलीफोन एक्सचेंज स्थित झारखंड ताइक्वांडो संघ के पूर्व अध्यक्ष प्रभात शर्मा के आवास और 34 वें राष्ट्रीय खेल के तत्कालीन पदाधिकारी के आवास पर छापेमारी की है।  सीबीआई की छापेमारी के दौरान 34 वें राष्ट्रीय खेल के में हुई पेमेंट देने की गड़बड़ी के दस्तावेज जुटा रही है। बता दें कि इनसे पहले सीबीआई की टीम ने उस समय के खेल डायरेक्टर पीसी मिश्रा, राष्ट्रीय खेलों के आयोजन सचिव मधुकांत पाठक, ऑर्गेनाइजिंग सेकेट्ररी एचएम हाशमी और राष्ट्रीय खेलों की आयोजन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष रहे वकील आरके आनंद के ठिकानों पर भी छापेमारी कर चुकी है। 

अध्यक्ष के घर सुबह छह बजे से जारी है छापेमारी
सीबीआई की टीम धनबाद में 34 वें राष्ट्रीय खेल से जुड़े मामले में छापेमारी सुबह छह बजे से कर रही है। जानकारी के अनुसार, 34वें राष्ट्रीय खेल में पांच स्पर्धाओं का आयोजन धनबाद में हुआ था। आयोजन को लेकर लगभग 10 करोड़ से अधिक की राशि धनबाद में भी खर्च की गई थी। इसमें दो स्टेडियम और दो स्पोर्ट्स हॉस्टल का निर्माण शामिल है। राष्ट्रीय खेल की आयोजन समिति पर आरोप है कि स्टेडियम निर्माण में गुणवत्ता से खिलवाड़ किया गया। साथ ही तय अनुमानित की गई राशि से अधिक कीमत देकर स्टेडियम बनवाया गया। 34वें राष्ट्रीय खेल आयोजन को लेकर 2008 से 2014 तक के बीच हुए विभिन्न टेंडरों व उससे जुड़े भुगतान में हुई गड़बड़ियों की सच्चाई को जानने के लिए सीबीआई के अधिकारियों ने दबिश दी है। बता दे कि ताइक्वांडो अध्यक्ष के घर सीबीआई ने सुबह 6 बजे छापेमारी की है।

हाईकोर्ट ने दिए थे जांच के आदेश
उल्लेखनीय है कि झारखंड हाईकोर्ट की तरफ से राष्ट्रीय खेल आयोजन समिति के आधारभूत संरचना के निर्माण और खेल के आयोजन में 28 करोड़ से अधिक खर्च किये जाने के मामले में सीबीआई जांच के आदेश दिये गये थे। यह आदेश 11 अप्रैल 2022 को झारखंड हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की अदालत ने दिया था। इसके बाद से सीबीआई छापेमारी कर रही है। इससे पहले 26 और 27 मई को रांची, धनबाद के 12 से अधिक ठिकानों पर सीबीआई रांची की टीम ने छापेमारी की थी। इसमें पूर्व मंत्री बंधु तिर्की का रांची स्थित आवास, झारखंड ओलंपिक संघ का मोरहाबादी स्थित कार्यालय, 34वें राष्ट्रीय खेल आयोजन समिति के रांची स्थित दफ्तर भी शामिल थे।

यह भी पढ़े- कौन है किसान की बेटी रितु बराला, जिसने मंत्री की बेटी का टिकिट काट दिया...राजस्थान की राजनीति में हड़कंप

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios