Asianet News HindiAsianet News Hindi

अंकिता ने मौत से ठीक पहले बताई दर्दभरी कहानी, कहा-वो मुझे जिंदा जलाने पेट्रोल का केन लेकर आया था और...

दुमका की बेटी अंकिता की हत्या के मामले में झारखंड के अलावा पूरा देश आरोपपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग कर रहा है। वहीं अंकिता ने मरने से पहले पुलिस को दिया बयान में कहा था-मैं जैसे तड़प रहीं, वैसी ही मौत उसे मिलनी चाहिए...

dumka ankita singh murder case told  painful story before death Jharkhand kpr
Author
First Published Aug 29, 2022, 3:09 PM IST

रांची. झारखंड की उपराजधानी दुमका में अंकिता की मौत पर बवाल मचा हुआ है। पूरे राज्य सहित देशभर से लोग अंकिता की मौत से गुस्से में हैं। सभी एक स्वर में हत्यारें के लिए फांसी की सजा की मांग कर रहे हैं। इसी बीच मौत से ठीक पहले 12वी में पढ़ने वाली अंकिता का वीडियो सामने आया, जिसमें उसने आपबीती बताई। वीडियो में अंकिता ने कहा कि आरोपी शाहरूख सुबह पांच बजे मुझे मारने पेट्रोल का केन लेकर मेरे घर आया था। 

अंकिता ने कहा.. जैसे मैं तड़प रही हूं, वैसी ही मौत उसे भी मिलनी चाहिए
अंकिता का वायरल वीडिया ने सभी को भावूक कर दिया। वीडियो में अंकिता मरने से पहले अपील की थी कि उसके गुनाहगार को कड़ी से कड़ी सजा मिले। अंकिता ने अपने साथ हुए हादसे को एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट चंद्रजीत सिंह और एसडीपीओ नूर मुस्तफा के सामने बताया है। उसने आरोपियों का नाम भी लिया है। साथ ही उसने प्रशासन से अपील की है कि जिस तरह से तड़पते हुए वो मर रही है। उसी तरह से उसके गुनाहगारों को भी मौत की सजा दी जाए। उसने बताया कि घटना 23 अगस्त की सुबह पांच बजे के आसपास की है। मैं अपने कमरे में सो रही थी, अचानक कमरे की खिड़की के पास आग की लपटें देखकर मैं डर गई। जब मैंने खिड़की खोली तब देखा कि मोहल्ले का शाहरुख हुसैन हाथ में पेट्रोल का कैन लिए मेरे घर की तरफ से भाग रहा था। तब तक आग मेरे शरीर में भी लग चुकी थी और मुझे काफी जलन सी महसूस हो रही थी।

आवारा किस्म करा लड़का है शाहरूख
अंकिता ने बताया, 'मैं सिर्फ यही देख पाई कि ब्लू टीशर्ट पहने, हाथ में पेट्रोल की कैन लिए शाहरुख भाग रहा था। ये वही शाहरुख था जो पिछले 10-15 दिन से मुझे परेशान कर रहा था। मोहल्ले में उसे आवारा किस्म के लड़के के रूप में सब जानते थे। उसका काम सिर्फ लड़कियों को परेशान करना और उन्हें अपने झांसे में लेकर इधर-उधर घुमाना था। पिछले दस-पंद्रह दिन से वह मेरा पीछा कर रहा था। जब भी मैं स्कूल या ट्यूशन के लिए जाती, वह मेरा पीछा करता। हालांकि, मैंने कभी उसकी हरकतों को सीरियसली नहीं लिया, लेकिन उसने कहीं से मेरे मोबाइल का नम्बर जुगाड़ लिया था। उसके बाद अक्सर मुझे फोन करके मुझसे दोस्ती करने का दबाव बनाने लगा।

परिवार को मारने की धमकी दी थी
अंकिता के मुताबिक, शाहरुख ने धमकी भी दी थी कि अगर मैं उसकी बात नहीं मानूंगी तो वह मुझे और मेरे परिवार वालों को मार देगा। मुझे उसकी हरकतों का अंदेशा तो था, लेकिन यह नहीं समझ पाई कि मेरे साथ ऐसा होगा। 22 अगस्त की रात उसने मुझे धमकी दी थी कि अगर मैं उसकी बात नहीं मानूंगी तो वह मुझे मारेगा। मैंने पापा को यह बात बताई तो उन्होंने कहा कि सुबह होने के बाद इस मामले का हल निकाला जाएगा। कोई इस समस्या का हल निकल पाता 23 अगस्त की सुबह शाहरुख ने पेट्रोल छिड़ककर मुझे जला डाला।

यह भी पढ़ें-कड़ी सुरक्षा में निकली गई दुमका की बेटी अंकिता की अंतिम यात्रा, दादा ने दी मुखाग्नि...शमशान में तैनात थी पुलिस

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios