Asianet News HindiAsianet News Hindi

बच्चों ने डांस करने से मना क्या किया, भड़क गए मास्टर जी, छात्रों पर बरसा दी ताबड़तोड़ लाठियां, कई हुए घायल

झारखंड के गुमला में मास्टर साहब की छात्रों के साथ दबंगई करने का मामला सामने आया है। जहां बच्चों ने डांस करने से मना किया तो दरवाजा बंद कर इतना मारा की चार लाठियां तोड़ दी, 13 छात्र चोटिल, परिजनों ने किया हंगामा। बीडीओ ने दिए जांच के आदेश।

gumla crime news english medium school teacher brutally beat students many admitted in hospital asc
Author
First Published Sep 28, 2022, 9:52 PM IST

गुमला (झारखंड). झारखंड के गुमला जिले के चैनपुर में एक इंग्लिश मीडियम स्कूल के मास्टर जी ने गजब की दबंगई दिखाई। उनके आदेश का पालन नहीं करने पर छात्रों को पीटा। उनके पिटाई से स्कूल में पढ़ाई करने वाले 13 छात्र घायल हो गए। सभी घायल छात्रों का प्राथमिक उपचार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चैनपुर में कराया गया। परिजनों को जब इसकी जानकारी मिली तो वे आक्रोशित हो उठे और चैनपुर थाने में आरोपी शिक्षक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग की। यहीं नहीं शिक्षक की शिकायत बीडीओ से भी की गई। 

प्रिंसिपल ने कहा- मारो हमारा राज है
शिक्षक की मार से चोटिल छात्रों ने बताया कि विद्यालय के शिक्षक विकास उर्फ श्रील कुजूर हमें डांस करने के लिए कह रहे थे। हमने डांस करने से मना किया तो दरवाजा बंद करके बेरहमी से पीट दिया जिससे 4 लाठी टूट गई। इसकी शिकायत करने हम प्रिंसिपल हेंड्रि कुल्लू के पास गए तो प्रिंसिपल ने शिक्षक से कहा कि और मारो हमारा राज चलता है। कमर राजा खान, शाश्वत कुजूर, सुमित कुमार जायसवाल समेत 13 बच्चों के साथ शिक्षक द्वारा बेरहमी से मारपीट किए जाने के बाद स्कूल में पढ़ने वाले और बच्चे भी भयभीत हो गए हैं। वे स्कूल जाने से भी मना कर रहे हैं। 

अभिभावक बोले- नशे में रहता है आरोपी शिक्षक
घायल छात्र के परिजनों ने कहा कि हम बच्चों को स्कूल में शिक्षा ग्रहण करने के लिए भेजते हैं ना कि जानवर की तरह मार खाने के लिए। आज के समय में जानवर को भी इतनी बेरहमी से नहीं पीटा जाता है। फिर तो यह मासूम बच्चे हैं। कहा कि यह शिक्षक नशे में धुत रहता है और बच्चों को बेरहमी से पिटाई कर देता है। विद्यालय में शिक्षक शिक्षा देने के नाम पर बच्चों से जानवरों सा सलूक करना बंद करें। आए दिन संत माइकल इंग्लिश मीडियम स्कूल में ऐसी घटनाएं घटती रहती हैं। अब तो हमें अपने बच्चों को स्कूल में पढ़ने भेजने से भी डर लगता है। पता नहीं कब कौन शिक्षक बच्चों को जान से मार दे। वहीं अगर इस बात की शिकायत स्कूल के प्रधानाध्यापक से करने पर वह कहता है कि अपने बच्चे को स्कूल से ले जाओ और घर में रखो।

बीडीओ ने कहा- टीम बनाकर जांच करेंगे
इस संबंध में प्रखंड विकास पदाधिकारी डॉ. शिशिर कुमार सिंह ने कहा कि विद्यालय के 13 छात्रों के साथ शिक्षक द्वारा मारपीट की गई है। इस मामले में एक जांच टीम का गठन किया जाएगा। जांच टीम के जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। बच्चों के साथ शिक्षक द्वारा की गई मारपीट का घटना काफी दुखद है। वहीं चैनपुर थाना प्रभारी आशुतोष कुमार सिंह ने कहा कि विद्यालय के 13 छात्रों के साथ शिक्षक के द्वारा मारपीट का आवेदन प्राप्त हुआ है। जांच उपरांत आगे की कार्रवाई की जाएगी। ऐसी घटना नहीं होनी चाहिए।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios