Asianet News Hindi

चोरी से पहले खाना बनाया और खाकर-पीकर आराम से पूरा घर बिखेर दिया, पर ऐसी नींद लगी कि होश हो उड़ गए

जिस घर में चोरी करने घुसा था यह चोर वहां फुर्सत में खाना बनाने लगा। फिर आराम से खाया। इसके बाद घर की तलाश ली। चोर को मालूम था कि घरवाले बाहर हैं, इसलिए कोई नहीं आएगा। इसलिए उसने रात वहीं गुजारने की सोची। लेकिन अगले दिन उठा..तो सिर पर पड़ोसी खड़े थे। फिर क्या था, सबने मिलकर उसकी अच्छे से कुटाई कर दी।

Jamshedpur News, the story of a hungry and stupid thief kpa
Author
Jamshedpur, First Published Sep 8, 2020, 3:16 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

 

जमशेदपुर, झारखंड. काम से ध्यान भटका कि गई भैंस पानी में! इस चोर के साथ भी यही हुआ। यह चोर जिस घर में घुसा था, वे सूना था। चोर पहले से ही रैकी कर चुका था। इसलिए इत्मिनान से चोरी करने घर में घुसा। घर की तलाशी लेते हुए उसे भूख लगी बैठी। इसलिए उसने चोरी छोड़कर किचन में खाना बनाया। फिर आराम से बैठकर खाया। इसके बाद फिर पूरे घर का सामान बिखेर दिया। चोर को मालूम था कि घर में अभी कोई नहीं आने वाला है, इसलिए उसने रात वहीं गुजारने की सोची। चोर घोड़ा बेचकर सो गया। लेकिन अगले दिन उठा..तो पड़ोसी सिर पर खड़े थे। पड़ोसियों ने पहले तो उसे अच्छे से कूटा और फिर पुलिस के हवाले कर दिया।

सिर्फ 10 हजार रुपए चोरी का इल्जाम
मामला सुंदरनगर थाना अंतर्गत नीलडूंगरी का है। आरोप है कि निलडूंगरी कोचाटोला निवासी रमेश कुमार हांसदा महिला डूमि मुर्मू के बंद घर में चोरी करने घुसा था। पुलिस ने आरोपी के पास से दो मोबाइल बरामद किए हैं। उसे जेल भेज दिया गया है।  हालांकि पिटने के बाद घायल हुए चोर ने अज्ञात लोगों पर मारपीट का केस दर्ज कराया है। उधर, मकान मालिक ने 10 हजार रुपए चोरी होने की बात कही है।


थाना प्रभारी जगदीश प्रसाद ने बताया डूमि लॉकडाउन के बाद से सरायकेला में रह रही थीं। यहां का घर तब से ही बंद है। घर में किरायेदार रहते हैं, लेकिन घटना के वक्त वे भी नहीं थे। सोमवार सुबह जब पड़ोसियों को कुछ आहट मिली, तो वे अंदर पहुंचे। देखा चोर आराम से सो रहा था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios