Asianet News HindiAsianet News Hindi

झारखंड के चुनावी संग्राम ने पकड़ा जोर, सीएम रघुवर दास के सामने विरोधी उम्मीदवारों की लगी झड़ी

झारखंड में विधानसभा चुनाव 2019 में दावेदारों की संख्या चरम पर है। सीएम रघुवर दास के विधानसभा क्षेत्र पूर्वी सिंहभूम में सबसे ज्यादा 25 कांग्रेसियों ने चुनाव लड़ने की दावेदारी पेश की है। वहीं, बीजेपी ने विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए 65+ का लक्ष्य रखा है। 

Jharkhand's election war caught up, CM Raghuvar Das in front of 25 congress candidates
Author
Ranchi, First Published Nov 5, 2019, 4:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रांची. झारखंड में विधानसभा चुनाव की तारिखों के ऐलान के बाद सियासी हलचल तेज हो गई है। वहीं, चुनावी दंगल में उतरने को लेकर तमाम दावेदार ताल ठोक रहे है। इन सब के बीच खबर सामने आई है कि सीएम रघुवर दास के विधानसभा क्षेत्र पूर्वी सिंहभूम में सबसे ज्यादा 25 कांग्रेसियों ने चुनाव लड़ने की दावेदारी पेश की है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रामेश्वर उरांव ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति की बैठक में राज्य के सभी 81 विधानसभा क्षेत्रों के लिए उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा हुई।

बनाया गया है पैनल 

सभी सीटों पर उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा के बाद 3-4 प्रत्याशियों का पैनल बनाया गया है। अब प्रदेश चुनाव समिति केन्द्रीय चुनाव समिति को उम्मीदवारों के नामों की अनुशंसा करेगी। स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक दिल्ली में छह नवंबर को होगी। रांची के पैनल में आदित्य विक्रम जायसवाल, डॉ राजेश कुमार गुप्ता, हटिया से आलोक कुमार दुबे, अभिलाष साहू, रविंद्र सिंह, अजयनाथ शाहदेव, खिजरी से रमा खलखो, अमूल्य नीरज खलखो, राजेश कच्छप, बेलस तिर्की, कांके से सुरेश बैठा, निरंजन पासवान, प्रेम कुमार, संजय पासवान शामिल हैं।

पिता-पुत्रों का नाम भी उम्मीदवारों के लिस्ट में 

पूर्व मंत्री राजेंद्र प्रसाद सिंह और उनके पुत्र अनूप का नाम विधानसभा क्षेत्र बेरमो की लिस्ट में शामिल है। विश्रामपुर से चंद्रशेखर दुबे के अलावा उनके पुत्र अजय दुबे का नाम चर्चा में है। जबकि डॉ. इरफान अंसारी जामताड़ा से चुनाव लड़ने का दावा पेश किया है। वहीं, उनके पिता फुरकान अंसारी का नाम गोड्डा के पैनल में है।  बैठक में सुबोधकांत सहाय ने चुनाव लड़ने से मना कर दिया। जबकि डॉ. रामेश्वर उरांव का नाम लोहरदगा-गुमला से चुनाव लड़ने वालाों की सूची में है। राजेश ठाकुर और केशव महतो कमलेश ने बोकारो और सिल्ली से चुनाव लड़ने से मना कर दिया।

भाजपा: 65+ और लोकसभा दोहराने पर जोर

झारखंड विधानसभा चुनाव के तारिख सामने आने के बाद बीजेपी अपनी जीत के लिए तैयारियां युद्ध स्तर पर जारी है। जिसको लेकर भाजपा के राष्ट्रीय और प्रादेशिक नेता सोमवार की शाम प्रदेश भाजपा कार्यालय में बैठ कर मंथन किया। इस दौरान रांची पहुंचे भाजपा के दिग्गजों ने पिछले लोकसभा चुनाव में मिली भारी जीत को दोहराने का संकल्प लिया है। प्रदेश भाजपा चुनाव समिति की बैठक में राजनीतिक हालात के साथ आजसू के मजबूत क्षेत्रों पर बात हुई।

की वन टू वन बात 

भाजपा में मंगलवार को उम्मीदवारों की सूची बनेगी। बुधवार की दोपहर के बाद प्रदेश चुनाव समिति की फिर बैठक होगी, जिसमें नामों पर अंतिम मुहर लगाई जाएगी। पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने सभी बड़े नेताओं से वन टू वन बात की। बैठक के बाद पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा से भी उन्होंने बात की। बैठक की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने की, जबकि मुख्यमंत्री रघुवर दास के साथ प्रदेश भाजपा के कई पदाधिकारी मौजूद थे।

महाराष्ट्र और हरियाणा सबक 

महाराष्ट्र व हरियाणा में हालिया संपन्न हुए विधानसभा के चुनाव से मिले सबक को लेकर चुनावी रणनीतिकारों ने 65 पार का लक्ष्य रखा। इसमें विधानसभा चुनाव प्रभारी ओमप्रकाश माथुर, प्रदेश सह प्रभारी रामविचार नेताम, प्रदेश विधानसभा सह प्रभारी नंदकिशोर यादव, धर्मपाल सिंह आदि ने लक्ष्य हासिल करने का मंत्र दिया। बैठक के बाद प्रदेश महामंत्री दीपक प्रकाश ने कहा कि दो दिन बाद फिर चुनावी बैठक होगी। सोमवार को पार्टी ने 65 पार के लक्ष्य की रणनीति बनाई। विधानसभा में उम्मीदवार तय करने और चुनाव प्रबंधन पर भी विचार हुआ। प्रत्याशियों के चयन पर बाद में बात होगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios