Asianet News HindiAsianet News Hindi

झारखंड CM हेमंत सोरेन का करीबी प्रेम प्रकाश गिरफ्तार, ED की छापेमारी में तिजोरी से मिली थीं 2 AK-47

अवैध खनन मामले में आरोपी बनाए गए झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के करीबी प्रेम प्रकाश को ईडी ने गिरफ्तार कर लिया है।  प्रेम प्रकाश के 14  ठिकानों तक ईडी ने छापेमारी की। इस दौरान दो एके-47 राइफल और 60 जिंदा कारतूस मिले थे। 

Ranchi ed arrests prem prakash close relation of cm hemant soren in illegal mining case kpr
Author
Ranchi, First Published Aug 25, 2022, 9:54 AM IST

रांची (झारखंड). कई राजनेताओं और नौकरशाहों के करीबी रहे कारोबारी प्रेम प्रकाश को ईडी ने गिरफ्तार कर लिया है। प्रेम प्रकाश के ठिकानों पर करीब 15 घंटे तक रेड करने के बाद देर रात उसे अरेस्ट किया गया। जबकि यूके झा को भी ईडी ने हिरासत में लिया है। यूके झा हरमू स्थित शैलोदय भवन के मालिक हैं। इनके मकान में ही प्रेम प्रकाश किराया पर रहते थे। प्रेम प्रकाश के 14  ठिकानों तक ईडी ने छापेमारी की। इसके हरमू स्थित आवाज से ईडी को छापेमारी के दौरान दो एके-47 राइफल और 60 जिंदा कारतूस मिले थे। छापेमारी के दौरान ईडी ने कई अहम दस्तावेज और डिजिटल उपकरण भी जब्त किया। 

छापेमारी में मिले थे अमेरिकी नस्ल के कछुए
प्रेम प्रकाश से पूछताछ की जा रही है। जानकारी होगी रांची के अलावा बिहार के सासाराम, दिल्ली और तमिलनाडु में भी प्रेम प्रकाश के ठिकानों पर छापेमारी की गई। 24 अगस्त सुबह से ही ईडी की कई टीमें छापेमारी कर रही थी।  इससे पहले 25 मई को भी ईडी ने प्रेम प्रकाश के घर में छापेमारी की थी। तब उसके घर से एक अमेरिकी नस्ल के कछुआ मिला था। 

प्रेम प्रकाश के घर 2 एके47 और कारतूस रखने वाले दो जवान सस्पेंड
इधर, प्रेम प्रकाश के घर से मिले दो एके47 और 60 जिंदा कारतूस जिला पुलिस के जवानों के थे। दोनों जवानों को सस्पेंड कर दिया गया है। दोनों जवान सीएम हाउस की सुरक्षा में तैनात हैं। पुलिस की ओर से बताया गया है 23 अगस्त की शाम बारिश होने के कारण दोनों जवान अपना हथियार और गोली प्रेम प्रकाश के घर रख चले गए थे। जवानों का कहना है कि प्रेम प्रकाश घर पर तैनात एक कर्मचारी उनका परिचित है। इसलिए बारिश होने पर दोनों उसके पास चले गए। बारिश नहीं रुकी तो अपना हथियार और गोली अलमीरा में रख दिया और चले गए। 

पुलिस नहीं बता रही जवानों का नाम
पुलिस की ओर से निलंबित दोनों जवानों का नाम नहीं बताया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि दोनों जवानों का प्रेम प्रकाश के यहां ड्यूटी नहीं थी। उनकी ड्यूटी कहां लगी थी, इसकी जांच कर रहे हैं। जांच पूरा होने के बाद ही इस मामले में कुछ कहा जा सकेगा। इधर एके-47 और गोलियां मिलने के बाद जिला पुलिस दोनों जवानों को प्रेम प्रकाश के घर लेकर गई और हथियार चिन्हित करवाया। यहां भी दोनों जवानों को पुलिस मीडिया कर्मी कर्मियों से छुपाते दिखी। इधर, मुख्यमंत्री सचिवालय ने बयान जारी कर कहा कि ईडी की छापेमारी में कुछ मीडिया संस्थान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का नाम प्रेम प्रकाश के साथ जोड़ रहे हैं। यह मुख्यमंत्री के सार्वजनिक पद की गरिमा का पूर्ण उल्लंघन है। ऐसा करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़े- प्रेम प्रकाश का क्लर्क से करोड़पति तक का सफरः धोनी की नकल, VIP नंबर-महफफिल जमाने लिया था 60 लाख का रेटेंड घर


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios