Asianet News HindiAsianet News Hindi

झारखंड सीएम हेमंत सोरेन के बढ़ी मुश्किलें, ईडी ने भेजा समन, इस मामले में होगी मुख्यमंत्री से पूछताछ

झारखंड के सुप्रीमों सीएम हेमंत सोरेन की मुश्किले कम होने का नाम नहीं ले रही है। पहले ही ऑफिस ऑफ प्रॉफिट मामले में सदस्यता सीट पर संकट है वहीं अब ताजा मामले में अवैध खनन में भी नाम आने के बाद ईडी ने उनको 3 नवंबर के दिन पूछताछ के लिए समन भेजा है।

ranchi news illegal mining case update ED send notice to summon CM hemant soren for questioning in there office asc
Author
First Published Nov 2, 2022, 12:13 PM IST

रांची. झारखंड के सुप्रीमों हेमंत सोरेन के लिए फिर मुश्किल भरी खबर सामने आई है। यहां खबर सामने आ  रही है कि अवैध खनन मामले  में  ईडी ने पूछताछ के लिए समन भेजा है। जिसके तहत कल यानि गुरुवार के दिन उनको प्रवर्तन निदेशालय के ऑफिस पहुंच कर जवाब देना है। इसके पहले ही सीएम पर ऑफिस ऑफ प्राफिट मामले में विधायक सदस्यता का मामला लंबित है, इसके बाद ये एक और मुसीबत उनके सिर आ पड़ी है। 

करीबी के घर से मिले सबूतों के आधार पर भेजा समन
ईडी ने झारखंड के सीएम को 3 नवंबर के दिन रांची स्थित कार्यालय मे पूछताछ के लिए समन भेजा गया है। यह कार्यवाही प्रवर्तन निदेशालय ने सीएम के करीबी नेता पंकज मिश्रा को 8 जुलाई के दिन अरेस्ट करने के बाद उनके घरों और ऑफिसों में छापेमारी की गई थी। जिसमें टीम को उनके यहां से सीएम हेमंत सोरेन के नाम से जुड़े कई अहम दस्तावेज मिले, जिसमें से कई बैंक की पासबुक बरामद की गई है। जिसके बाद उनके ऊपर मनी लॉन्ड्रिंग के साथ अवैध खनन मामले में कार्यवाही करते हुए अब पूछताछ के लिए समन भेज दिया है। जिसके तहत सीएम को रांची स्थित ईडी ऑफिस में उपस्थित होना होगा। वहीं इस तरह के नोटिस जारी होने के बाद कई अन्य नेताओं ने तीखी प्रतिक्रिया दर्ज कराई है।

कांग्रेस नेता ने कहा- पहले मोरबी पहुंचना था ईडी को
झारखंड में कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने सीएम के खिलाफ ईडी के समन पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दर्ज कराते हुए केंद्र पर निशाना लगाते हुए कहा है कि यह सब केंद्र सरकार द्वारा की जा रही कार्यवाही। वह गैर भाजपा शासित राज्यों में वहां की मौजूदा सरकार को अस्थिर करना चाहती है। उन्होने कहा कि सीएम को बुलाना नार्मल प्रोसेस नहीं लग रहा है सब कुछ असामान्य है। ई़डी को इस काम से पहले गुजरात के मोरबी में हुए हादसे की जांच के लिए जाना चाहिए था।

बता दे कि  झारखंड में अवैध खनन मामले के साथ मनी लॉन्ड्रिग मामले मे अभी तक सीएम के करीबी नेता पंकज मिश्रा को 8जुलाई के दिन, फिर 4 अगस्त को बच्चू यादव व इसी महीने की 25 तारीख को बड़े कारोबारी प्रेम प्रकाश को अरेस्ट किया गया था। इसमें पंकज मिश्रा के ठिकानो पर जांच के दौरान सीएम के खिलाफ अहम दस्तवेज बरामद हुए थे।

यह भी पढ़े- झारखंड: नगर निकाय चुनाव में नहीं होगा OBC आरक्षण, हेमंत सरकार ने लिया बड़ा फैसला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios