Asianet News HindiAsianet News Hindi

झारखंड MLA कैश कांड: जामताड़ा विधायक के घर पहुंची पश्चिम बंगाल की सीआईडी टीम, खंगाल रही दस्तावेज

पश्चिम बंगाल में विधायकों की गाड़ी में कैश मिलने के बाद कांग्रेस पार्टी से निकाले गए विधायकों में से एमएलए इरफान अंसारी के घर आज बंगाल की सीआईडी द्वारा रेड की गई। छापेमारी में टीम जरूरी कागजातों की छानबीन कर रही थी।

ranchi news west bengal CID raid jamtara MLA Dr. Irfan Ansari in jharkhand cash scam case sca
Author
Jamtara, First Published Aug 8, 2022, 6:11 PM IST

जामताड़ा(झारखंड): पश्चिम बंगाल में झारखंड के तीन विधायकों के 49 लाख रुपए के साथ पकड़ाने के मामले में पश्चिम बंगाल की सीआईडी टीम झारखंड आई है। जामताड़ा के विधायक डॉ इरफान असंरी के जामताड़ा स्थित आवास पर पश्चिम बंगाल के सीआईडी की रेड कर रही है। सोमवार की सुबह सीआईडी की चार सदस्यीय टीम जामताड़ा के विधायक डॉ इरफान अंसारी के घर पहुंची। जहां जरूरी कागजातों को खंगाला जा रहा है। घर में किसी के भी घुसनें और निकलने पर रोक लगा दी गई है। सीआईडी के साथ स्थानीय पुलिस भी मौजूद है। वहीं. सीआईडी की आने की सूचना पर आस-पास के लोग भी विधायक के घर के बाहर जुटे हैं। छापेमारी के दौरान क्या बरामद हुआ इसकी जानकारी सीआईडी या स्थानीय पुलिस अभी नहीं दे रही है। 

तीन विधायक पकड़े गए थे 
जानकारी हो कि 30 जुलाई को झारखंड के तीन विधायक जामताड़ा के डॉ इरफान अंसारी, खिजरी के विधायक राजेश कच्छप, कोलबीरा के विधायक नमन विक्सल कोंगाडी को पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले के पांचला थाना क्षेत्र के रानीहाटी मोड़ के पास पुलिस ने पकड़ा था। कार में भारी मात्रा में नोटों के बंडल मिले थे। तीनों विधायकों के अलावा चालक और एक अन्य को भी गिरफ्तार किया गया था। सभी एक ही कार पर बंगाल से झारखंड आ रहे थे। पैसे कहां से आए इसका जवाब नहीं दे पाने के कारण सभी को गिरफ्तार कर लिया गया था। अब इस मामले की जांच सीआईडी कर रही है। जांच के लिए सीआईडी असम भी गई थी। सीआईडी के जांच में यह बात सामने आई थी कि कोलकाता के महेंद्र अग्रवाल नामक व्यवसायी ने पैसे दिए थे। सीआईडी ने महेंद्र अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया था। 

तीनों विधायकों को कांग्रेस ने पार्टी से निकाला था 
जानकारी हो कि पैसे के साथ पकड़े गए तीनों विधायक जामताड़ा के डॉ इरफान अंसारी, खिजरी के विधायक राजेश कच्छप, कोलबीरा के विधायक नमन विक्सल कोंगाडी कांग्रेस पार्टी से थे। मामला उजागर होने के बाद कांग्रेस के आलाकमान ने तीनों को पार्टी से निलंबित कर दिया था। जबकि कांग्रेस के ही विधायक अनूप सिंह ने तीनों पर सरकार गिराने की कोशीश करने का आरोप लगाते हुए रांची के अरगोड़ा थाना में केस दर्ज कराया था। अरगोड़ा पुलिस ने केस को पश्चिम बंगाल ट्रांसफर्र कर दिया था। अनूप सिंह ने कहा था कि डॉ इरफान अंसारी और राजेश कच्छप ने उन्हें 10 करोड़ रुपए और मंत्री पद का ऑफर सरकार गिराने में सहयोग करने पर दिया था।

यह भी पढ़े- राजस्थान वेदर अपडेटः मौसम विभाग का 15 जिलों में भारी बारिश को लेकर अलर्ट, जानिए अपने जिलें का ताजा हाल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios