Asianet News HindiAsianet News Hindi

झारखंड में दरिंदगी की हदें पार: ऑटो में सवार लड़की से की हरकतें, पूरी रात चीखती रही और वो बरपाता रहा कहर

झारखंड के दुमका जिले से एक शर्मनाक खबर सामने आई है। जहां एक ऑटो चालक ने नाबालिग बच्ची के साथ रेप की कोशिश की। जब उसने विरोध किया तो डंडे से मार-मार अधमरा कर दिया। पीड़िता पूरी रात सुनसान इलाके में पड़ी रोती-बिलखती रही।

shocking crime of dumka minor girl attempt to rape by auto driver in Jharkhand kpr
Author
Dumka, First Published Aug 22, 2022, 6:04 PM IST

दुमका. झारखंड में एक ऑटो चालक ने नाबालिग के साथ दिरंदगी की सारी हदें पार कर दी। पहले उसने 14 वर्षीय किशोरी का रेप करना चाहा। विरोध के कारण रेप नहीं कर सका तो उसने नाबालिग को इतना मारा की वह अधमरा हो गई। इससे भी उसका मन नहीं भरा तो जख्मी हालात में ही उस किशोरी को सड़क के किनारे फेंक दिया। जानकारी के अनुसार, लड़की की हालत गंभीर है। फूलो झानो मेडिकल कॉलेज में उसका इलाज चल रहा है। 

लड़की ने विरोध किया तो उसे डंडे से मारने लगा

पीड़िता ने बताया कि वह रामगढ़ स्थित अपने फूफा के घर जाने के लिए बासुकीनाथ बस स्टैण्ड पहुंची थी। वहां एक ऑटो वाले ने उसे रामगढ़ ले जाने की बात कहकर ऑटो में बैठा लिया। ऑटो में पहले से एक युवती बैठी थी। बस स्टैण्ड से निकल कर ऑटो आधे घंटे बाद एक सुनसान जगह पर पहुंची। जहां चालक ने ऑटो रोक दिया और दोनों के साथ छेड़खानी करने लगा। मौका देखकर पहले से बैठी युवती ऑटो से भाग गयी। ऑटो चालक लड़की के साथ छेड़खानी और दुष्कर्म करने का प्रयास करने लगा। लड़की ने विरोध किया तो उसे डंडे से मारकर अधमरा कर दिया और मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मुड़ाबहाल इलाके में सड़क किनारे फेंक कर भाग गया। पीड़िता रातभर वह वहीं पड़ी रही। 

इतना मारा की लड़की का पैर टूट गया और चेहरा से भी निकला खून

दुमका जिले के जरमुण्डी थाना क्षेत्र की रहने वाली 14 साल की किशोरी के साथ छेड़खानी और दुष्कर्म के प्रयास के बाद उसे पीटकर अधमरा करने के मामले में सीडब्ल्यूसी ने स्वत: संज्ञान लिया है। घटना में लड़की का दायां पैर टूट गया है। उसके चेहरे पर भी गंभीर चोट है। सीडब्ल्यूसी की टीम अस्पताल पहुंचकर पीड़िता से मिली और उसके दादी का बयान दर्ज किया। 

सड़क पर पड़ी रही लड़की, स्थानीय लोगों की मदद के बाद पहुंची अस्पताल

लड़की किसी तरह सड़क तक आयी और लोगों से मदद की गुहार लगायी। स्थानीय लोगों की सूचना पर महिला थाना पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती करवाया। घटना की सूचना मिलने पर सीडब्ल्यूसी के चेयरपर्सन अमरेन्द्र कुमार और सदस्य डॉ. राज कुमार उपाध्याय फूलो झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे. पीड़िता, उसकी दादी और महिला थाने की एएसआई मटिल्डा मिंज से घटना की जानकारी ली। समिति को पीजेएमसीएच के डीएस ने बताया कि बच्ची के पैर का एक्सरे और रक्त जांच करवा लिया गया है। रिपोर्ट के अनुसार ऑर्थोंपेडिक सजर्न उसके पैर का ऑपरेशन या प्लास्टर जो भी जरूरी हो वह करेंगे। 

आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करा जांच शुरू

समिति के निर्देश पर चाइल्डलाइन दुमका के केन्द्र समन्वयक मधुसूदन सिंह व टीम मेंबर शांतिलता हेम्ब्रम अस्पताल पहुंचे और बालिका के इलाज में सहयोग के अलावा उसकी काउंसलिंग भी की। समिति के निर्देश पर बालगृह (बालिका) की प्रभारी काजल कुमारी ने बालिका के लिए अस्पताल में कपड़े पहुंचाए। चेयरपर्सन अमरेन्द्र कुमार ने बताया कि एसडीपीओ नूर मुस्तफा ने समिति को सूचित किया है कि इस मामले में बालिका के बयान के आधार अज्ञात ऑटो चालक के खिलाफ जरमुण्डी थाना में पोक्सो एक्ट की धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की गयी है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios