Asianet News Hindi

7 फेरे से पहले अपने ही परिजनों पर बिगड़ गया दूल्हा, तो गुस्से में उन्होंने भी कर दिया मैरिज का 'बायकॉट'

हैरान करने वाली यह शादी झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिले में हुई। दूल्हे के परिजन दहेज लेने पर अड़े हुए थे। दूल्हा इस पर नाराज हो गया। फिर जानिए क्या हुआ...

Story of a unique unique wedding in Ghatshila, Jharkhand kpa
Author
Ghatshila, First Published Feb 10, 2020, 2:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पूर्वी सिंहभूम, झारखंड. हैरान करने वाली यह शादी जिले के घाटशिला में देखने को मिली। इस शादी में दूल्हा बरातियों और घरातियों को छोड़कर अकेले ही 7 फेरे लेने पहुंच गया था। वो और उसके परिजन दहेज को लेकर एक-दूसरे से नाराज हो गए थे। दूल्हे के परिजन दहेज लेना चाहते थे, जबकि दूल्हे ने साफ मना कर दिया था। इसी बात पर दूल्हे के परिजन शादी में शामिल नहीं हुए। दूल्हे ने भी किसी की फिक्र नहीं की और सिर्फ एक नारियल लेकर शादी की।


दूल्हा बोला, किसी की जरूरत नहीं
इस अनूठी शादी में दूल्हे ने दुल्हन से एक साड़ी और नारियल में 7 फेरे लिए। यह शादी प्रखंड मुख्यालय परिसर स्थित शिव-पार्वती मंदिर की संस्कारशाला में हुई। दूल्हा दीपक बेंगलुरु में एक निजी कंपनी में जॉब करता है। दुल्हन गरीब परिवार से ताल्लुक रखती है। उसके परिजनों ने दूल्हे के घरवालों को यह बात बताई थी। दीपक पहले से ही दहेज के खिलाफ था। लेकिन उसके परिजन चाहते थे कि दुल्हन दहेज लेकर आए। इसी बात को लेकर दीपक की अपने मां-बाप से बहस हो गई। उसके रिश्तेदार भी दीपक से खफा हो गए। कहासुनी के बाद दीपक के परिजनों ने इस शादी में शामिल नहीं होने का ऐलान कर दिया। दीपक ने भी किसी की फिक्र नहीं की और अकेले ही मंदिर जा पहुंचा। दीपक की इस पहल को सभी ने सराहा। शाम को लड़की वालों ने ही अपने यहां रिसेप्शन दिया। इसमें मंदिर प्रबंधन ने सहयोग किया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios