Asianet News Hindi

Kerala Election: कांग्रेस पर बरसे शाह-वो इतने कंफ्यूज हैं, इनका नेतृत्व भी कंफ्यूज और पार्टी भी कंफ्यूज

 पांच राज्यों-केरल, तमिलनाडु, असम, पुडुचेरी और पश्चिम बंगाल में होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी पारा चरम पर है। 22 और 23 मार्च को कांग्रेस नेता राहुल गांधी यहां चुनाव प्रचार करने आए थे। अब 24 मार्च को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह धुंआधार रैलियां कर रहे हैं।

Kerala assembly elections, Amit Shah's election rallies today kpa
Author
Kerala, First Published Mar 24, 2021, 10:03 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

तिरुवनन्तपुरम, केरल. पांच राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर अब राजनीति का पारा हाई पर चढ़ चुका है। पांचों राज्यों केरल, तमिलनाडु, असम, पुडुचेरी और पश्चिम बंगाल में सभी पार्टियों ने अब अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। सभी बड़े नेताओं की सभाएं युद्धस्तर पर जारी हैं।  22 और 23 मार्च को कांग्रेस नेता राहुल गांधी यहां चुनाव प्रचार करने आए थे। अब 24 मार्च को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह धुंआधार रैलियां कर रहे हैं। बता दें कि केरल की 140 विधानसभा सीटों के लिए सिर्फ एक चरण यानी 6 अप्रैल को वोटिंग होगी। नतीजे सभी पांच राज्यों के साथ 2 मई को आएंगे। 

 

अमित शाह ने कहा

  • शांति के लिए प्रसिद्ध केरल की भूमि LDF के नेतृत्व में भाजपा और आरएसएस के सैकड़ों कार्यकर्ताओं की हत्या से रक्त रंजित हुई है। भाजपा के नेता और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूरा देश विकास कर रहा है और केरल में भ्रष्टाचार की नाव चल रही है।
    केरल एक जमाने में विकास और पर्यटन के मॉडल के रूप में, सबसे शिक्षित और शांतिप्रिय राज्य के रूप में जाना जाता था। मगर LDF, UDF की सरकारों ने केरल को भ्रष्टाचार का अड्डा बनाने का काम किया है।
  • केरल की जनता LDF और UDF से परेशान है। यहां की जनता बीजेपी को एक विकल्प के रूप में देख रही है और मैं निश्चित रूप से कह सकता हूं कि हम बहुत अच्छी बढ़त के साथ इस बार केरल चुनाव में प्रदर्शन करेंगे।
  • मुझे यकीन है कि हम केरल विधानसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन करेंगे। कांग्रेस पार्टी और उसका नेतृत्व भ्रमित है।
  • कांग्रेस पार्टी कंफ्यूज पार्टी है, यहां कम्युनिस्ट के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं और बंगाल में कम्युनिस्ट के साथ लड़ रहे हैं। वो इतने कंफ्यूज हैं। इनका नेतृत्व भी कंफ्यूज और पार्टी भी कंफ्यूज है।
  • केरल में बदलाव का समय आ गया है, ई.श्रीधरन जैसे वरिष्ठ ब्यूरोक्रेटस भी भाजपा में इसलिए होते हैं क्योंकि LDF और UDF अब केरल का भला नहीं कर सकते।
  • यहां की सरकार को जवाब देना चाहिए कि गोल्ड स्कैम के आरोपियों का क्या हुआ, क्या वो सीएम के ऑफिस में काम नहीं करते थे? 
  • अमृत योजना के तहत 1100 करोड़ रुपये की लागत से शहरों को अपग्रेड करने का काम चल रहा है।
  • नेशनल हाईवे के लिए 65,000 करोड़ रुपये केरल के लिए देने का काम नरेन्द्र मोदी जी ने किया है।
  • कोच्चि मेट्रो के विकास के लिए 1957 करोड़ रुपये केंद्र सरकार ने भेजे हैं।
  • कम्युनिस्ट पार्टी के कैडरों ने पुलिस के कपड़े पहनकर सबरीमाला के भक्तों पर जुर्म किए। कम्युनिस्ट पार्टी ने सरकारी विभाग में अपने कैडरों की भर्ती कर अफसरों का राजनीतिकरण किया है। केरल लोक सेवा आयोग कम्युनिस्ट पार्टी का कार्यालय बनकर पड़ा है:

 

 

केरल में भाजपा का घोषणापत्र जारी हुआ है। यह घोषणापत्र केरल का विकास करने वाला है। हमने इस घोषणापत्र में लव जिहाद के खिलाफ क़ानून और सबरीमाला पर क़ानून बनाने की बात भी बोली है।

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios