Asianet News HindiAsianet News Hindi

Rangoli design for gyaras: तुलसी विवाह के मौके पर अपने घर आंगन में बनाएं ये रंगोली डिजाइन

पूरे देश में देवउठनी ग्यारस का त्योहार 4 नवंबर को मनाया जाएगा। इस दौरान तुलसी विवाह का विशेष महत्व होता है। तुलसी विवाह के दौरान घर आंगन में रंगोली भी जरूर बनाई जाती है। यहां हम आपको बताते हैं कुछ स्पेशल रंगोली डिजाइंस।

Dev uthani gyaras 2022 try this latest rangoli design for Tulsi Vivah dva
Author
First Published Nov 3, 2022, 9:33 AM IST

लाइफस्टाइल डेस्क : किसी भी तीज-त्योहार पर रंगोली बनाने का विशेष महत्व होता है। खासकर दिवाली और उसके आसपास आने वाले त्योहारों पर रंगोली विशेष रूप से बनाई जाती है। इसी तरह से कार्तिक मास की एकादशी के दिन देवउठनी ग्यारस (Dev Uthani gyaras) मनाया जाता है जिसे तुलसी विवाह (Tulsi Vivah 2022) के रूप में भी जाना जाता है, क्योंकि इस दिन माता तुलसी और भगवान श्री शालिग्राम की शादी करवाई जाती है। गन्नों से उनका मंडप सजाया जाता है और घर आंगन में रंगोली विशेष रूप से बनाई जाती है। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कुछ ऐसी ही रंगोली डिजाइंस (latest rangoli design) जो आप तुलसी विवाह के मौके पर अपने घर आंगन में बना सकते हैं...

तुलसी विवाह का मौका हो, तो ऐसे में आप तुलसी जी की रंगोली बनाकर इसमें सुंदर से कलर भर सकते हैं। इस तरह से एक गमला बनाकर इसमें तुलसी जी का पौधा बनाएं। नीचे शहनाई और ढोल बनाकर विवाह की तैयारियां दिखाएं। ये रंगोली बेहद ही सुंदर लगती है।

तुलसी विवाह के मौके पर आप शुभ तुलसी विवाह लिखकर इस तरह से इसे गन्ने और सुहाग की श्रृंगार से इसे सजा सकते हैं।

देवउठनी ग्यारस पर शालिग्राम और तुलसी जी का विवाह किया जाता है। ऐसे में आप इस तरह से एक तरफ तुलसी जी और दूसरी तरफ भगवान शालिग्राम की रंगोली बनाकर बीच में तुलसी विवाह लिख सकते हैं। इसके आजू-बाजू दीयों से डेकोरेट किया जा सकता है।

सुहाग की सामग्री और पान के पत्ते से सजाकर आप इस तरह की सिंपल सी रंगोली भी तुलसी विवाह के मौके पर बना सकते हैं। उसके ऊपर शुभ विवाह लिख सकते हैं।

रंगोली के आजू बाजू मोर के पंख सजाकर बीच में एक चोकोर बॉक्स बनाकर तुलसी जी का पौधा रंगोली के रूप में बनाकर इसके साथ सुहाग का सामान रखें। यह रंगोली भी तुलसी विवाह के मौके पर बेहद खूबसूरत लगती है।

देवउठनी ग्यारस के मौके पर आप इस तरह से बांसुरी के ऊपर भगवान श्री कृष्ण की छाया बनाकर शुभ विवाह लिखकर उसके बाजू में एक छोटा सा तुलसी का पौधा रखें  और कुछ मोर के पंख से इसे सजा सकते हैं।

जिस जगह आप तुलसी विवाह करा रहे हैं उस जगह पर इस तरह से आप रंगोली बना सकते हैं। लाल रंग के चौकोर बॉक्स में शुभ और लाभ लिखा हुआ है। साथ ही इसमें भगवान शालिग्राम और तुलसी जी का एक छोटा सा पौधा रखा हुआ है, जो रंगोली को बहुत अच्छा लुक दे रहा है।

ये भी पढ़ें- Devuthani Ekadashi 2022: देवउठनी एकादशी पर क्यों किया जाता है तुलसी-शालिग्राम का विवाह?

Tulsi Vivah 2022: तुलसी का पौधा आपकी किस्मत बना भी सकता है और बिगाड़ भी, जानें कैसे?
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios