Asianet News Hindi

पिता की गोद में ऐसा मचला 4 महीने का बच्चा कि हाथ से छूटकर बालकनी से 12 फीट नीचे जा गिरा

बालकनी में मासूम बच्चों को गोद में लेकर खड़ा होना खतरनाक साबित हो सकता है। भोपाल में ऐसी ही एक घटना में मासूम बच्चे की बालकनी से गिरकर मौत हो गई। पिता की गोद में खेल रहे 4 महीने के मासूम ने अचानक हंसते हुए ऐसी उछाल भरी कि वो पिता के हाथ से छूटकर सीधे 12 फीट नीचे जा गिरा। इस हादसे से पूरा परिवार स्तब्ध है।
 

4-month-old baby fell from a 12-foot-high balcony from father's lap in Bhopal kpa
Author
Bhopal, First Published Apr 27, 2020, 9:20 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल, मध्य प्रदेश. मासूम बच्चों को गोद में लेकर बालकनी में खड़े होते वक्त सतर्कता बरतें। रैलिंग से दूर रहना बहुत जरूरी है। जरा-सी असावधानी बच्चे के लिए खतरा बन सकती है। भोपाल में ऐसी ही एक घटना में मासूम बच्चे की बालकनी से गिरकर मौत हो गई। पिता की गोद में खेल रहे 4 महीने के मासूम ने अचानक हंसते हुए ऐसी उछाल भरी कि वो पिता के हाथ से छूटकर सीधे 12 फीट नीचे जा गिरा। इस हादसे से पूरा परिवार स्तब्ध है। भोपाल के कंटेनमेंट जोन स्थित बाग फरहत में शनिवार सुबह यह हादसा हुआ।

पिता खुद को मान रहा लापरवाह..
ऐशबाग थाना पुलिस के अनुसार, खलील खान सब्जी व्यापारी हैं। वे शनिवार सुबह अपने मासूम बेटे यासिर को गोद में लेकर बालकनी में खड़े थे। मासूम अपने पिता की गोद में अठखेलियां कर रहा था। अचानक बच्चा ऐसा मचला कि वो पिता के हाथ से छूटकर बालकनी से 12 फीटे नीचे जा गिरा। परिजन उसे फौरन हॉस्पिटल लेकर गए, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। इस घटना के लिए पिता खुद को जिम्मेदार बताकर रोये जा रहा है। खलील ने कहा कि उसे बालकनी से दूर खड़े होना था। खलील ने बताया कि बच्चा मस्ती कर रहा था। अचानक बच्चे ने अंगड़ाई ली, तो उनके हाथ से उसकी पकड़ ढीली पड़ गई। इससे पहले कि वो बच्चे को संभाल पाते, वो हाथों से फिसलकर बालकनी से नीचे जा गिरा। वे उसे फौरन हमीदिया हॉस्पिटल लेकर गए। वहां कुछ घंटे उसका इलाज चला, पर वो बच नहीं सका।

मुझे ध्यान रखना था..
ऐशबाग थाने के एसआई नीलेश पटले ने बताया कि खलील का 2 साल पहले निकाह हुआ था। खलील अपने बेटे की तस्वीर के सामने रोते हुए बोला कि उसे ध्यान रखना था। बालकनी में जाना ही नहीं था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios