बालाघाट में टाइगर ने महिला को बनाया शिकार, दहशत में आया पूरा गांव, वन विभाग ने जारी किया अलर्ट

| Dec 03 2022, 11:21 AM IST

बालाघाट में टाइगर ने महिला को बनाया शिकार, दहशत में आया पूरा गांव, वन विभाग ने जारी किया अलर्ट

सार

मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले में सनसनीखेज वारदात हुई। यहां खेत में काम कर रही एक महिला को टाइगर ने अपना शिकार बनाया। घटना के बाद ग्रामीणों में दहशत है। वन विभाग व गांव के सरपंच ने अकेले खेत में नहीं जाने के लिए अलर्ट जारी किया है।

बालाघाट (balaghat). जंगलों में शिकार की कमी होने के चलते वन्यजीव बस्ती इलाके में इंसानों और पालतु मवेशियों पर हमला कर रहे है। ऐसी ही सनसनीखेज वारदात मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में सामने आई है। यहां अकेले खेत में काम कर रही महिला पर बाघ ने हमला कर अपना शिकार बनाया। इसके बाद जंगल की तरफ ले जाने लगा पर लोगों के शोर के कारण वह शव को वहीं छोड़कर जंगल में अंदर की तरफ भाग गया। वहीं घटना की जानकारी वन विभाग को दी गई जो कि घटना के काफी समय बाद वहां पहुंची जिससे ग्रामीणों में उनके प्रति आक्रोश भर आया। मामला  जिले के वारासिवनी क्षेत्र का है।

खेत में काम अकेले काम कर रही थी महिला, बाघ ने कर दिया हमला
मामले की जानाकारी देते हुए सरपंच विजय सहारे ने बताया कि हमारा गांव नंदगांव बालाघाट के जंगल एरिया वारसिवनी के अंतर्गत आता है। शुक्रवार के दिन महिला रोज की तरह अपने खेत में अकेले काम कर रही थी। उसका खेत जंगल के नजदीक ही पड़ता है। अकेली महिला को देखकर घात लगाए बैठे टाइगर ने उस पर हमला कर दिया। जिसके कारण महिला की मौके पर ही मौत हो गई। फिर बाघ उसे अपने साथ खींचकर जंगल की तरफ ले जाने लगा। पर अन्य ग्रामीणों ने हमला करते देख लिया था तो शोर मचाने लगे। लोगों के शोर को सुनकर टाइगर बॉडी वहीं छोड़कर जंगल में अंदर की ओर चला गया। वहीं घटना की जानकारी सरपंच व वन विभाग को दी गई। घटना का पता चलने के बाद भी फॉरेस्ट विभाग की टीम लेट आई जिससे लोगों में उनके प्रति गुस्सा व्याप्त था।

Subscribe to get breaking news alerts

वन विभाग ने की आर्थिक सहायता
ग्रामीणों ने घटना की सूचना तुरंत ही दे दी थी इसके बाद भी टीम शाम के 4 बजे पहुंची। जब तक महिला का शव वहीं खेत में पड़ा रहा। घटनास्थल परहां पहुंचने के बाद विभाग की टीम ने तुरंत कार्रवाही करते हुए बॉडी का पंचनामा किया साथ ही परिवार वालों को 10 हजार रुपए की आर्थिक सहायता की। इसके बाद शव  को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। महिला की पहचान लक्ष्मी उइके के रूप में हुई। महिला खेत में काम कर रही थी जब उस पर वन्यजीव ने हमला किया। वन विभाग के अधिकारी बी आर सिरसाम ने  ग्रामीणों को जंगल के पास नहीं जाने की सलाह दी है।

ग्रामीणों की सुरक्षा के चलते सरपंच ने अकेले खेत जाने से किया मना
वहीं महिला का शिकार होने के बाद गांव के सरपंच विजय सहारे ने बताया कि बाघ का ये हमला पहली बार नहीं इससे पहले भी टाइगर ने हमला करते हुए गुरुवार के दिन एक गाय के बझड़े को अपना शिकार बनाया था। इसके साथ ही उसका यहां पिछले एक महीने से मूवमेंट हो रहा है जिसकी जानकारी वनविभाग को दी गई थी। सरपंच ने भी ग्रामीणों के हालात सही नहीं होने तक खेतों में अकेले काम करने जाने के लिए मना किया है।

यह भी पढ़े- Video: कार में बैठ रही महिला को घसीटकर ले गया Tiger, बह रही खून की नदी को देख हैरान हुए लोग