Asianet News HindiAsianet News Hindi

मनचलों को ऐसी मार पड़वाएगी यह सैंडल कि ताउम्र लड़कियों के ऊपर आंख उठाकर नहीं देखेंगे


भोपाल के एक स्टूडेंट ने डिजाइन की है यह इलेक्ट्रिक चप्पल। इसे तैयार करने में करीब 1300 रुपए खर्चा आया है।

Electric slippers for women safety kpa
Author
Bhopal, First Published Jan 22, 2020, 7:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल, मध्य प्रदेश. देश में महिला सुरक्षा एक बड़ा मुद्दा है। लगातार इस दिशा में काम हो रहे है। भोपाल के एक स्टूडेंट ने ऐसी इलेक्ट्रिक चप्पल बनाई है, जो मुसीबत के वक्त महिलाओं की हेल्प करेगी। वो पुलिस और उसके घरवालों के मोबाइल तक मैसेज पहुंचा देगी। दोनों चप्पलों को आपस में टकराने पर यह मैसेज संबंधित जगहों पर पहुंच जाएगा। कपिल सोनी एमटेक इंजीनियर हैं। वे लंबे समय से कुछ ऐसी डिवाइस बनाने की कोशिश कर रहे थे, जो महिलाओं की सुरक्षा में काम आ सके। ओल्ड सिटी में कोच फैक्ट्री के पास रहने वाले कपिल बताते हैं कि वे अकसर महिलाओं से छेड़छाड़-रेप से जुड़ी खबरें पढ़ते थे। उनक मन विचलित हो जाता था।

Electric slippers for women safety kpa

ऐसे काम करती है चप्पल..
कपिल ने बताया कि चप्पल के अंदर ही उन्होंने एक उपकरण इंस्टॉल किया है। यह उपकरण वायरलेस कम्युनिकेशन सिस्टम से जुड़ा रहता है। वहीं सिम कार्ड, बैटरी और जीपीएस सिस्टम को चलाने वाला एक अन्य उपकरण बैग में रखना होगा। आपात स्थित में महिला जैसे ही चप्पल में लगे स्विच को दूसरे सैंडल से टकराएगी, तो सिस्टम अपना काम करना शुरू कर देगा। बैग में रखा सिस्टम एक्टिवेट हो जाएगा। फिर मैसेज पुलिस या घरवालों तक पहुंच जाएगा। इस उपकरण को बनाने में करीब 1300 रुपए का खर्च आया है। कपिल बताते हैं कि अभी उपकरण की साइज थोड़ी बड़ी है। वे उसे छोटा करने में लगे हैं, ताकि बैग में रखने में दिक्कत न हो। चप्पल को बड़े स्तर पर बनाने पर  इसकी लागत महज 300 रुपए आएगी।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios