Asianet News Hindi

MP: ब्राह्मण परिवार के 25 सदस्य अपनाना चाहते हैं इस्लाम, पीएम मोदी को लेटर लिखकर बताई वजह

पीड़ित परिवार ने पड़ोसी से तंग आकर यह पत्र प्रधानमंत्री मोदी के लिए 9 जुलाई को लिखा था। जिसमें अजय और उनके परिवार के 25 सदस्यों ने हिंदू धर्म छोड़कर मुस्लिम धर्म अपनाने की बात कही। साथ ही ग्वालियर के डीएम कौशलेन्द्र विक्रम सिंह और एसपी अमित सांघी को भी अपना ज्ञापन सौंपा है। 

Madhya Pradesh: 25 members of brahmin family are forced to adopt islam religion, wrote letter to PM Modi expressing there helplessness kpr
Author
Gwalior, First Published Jul 13, 2021, 4:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ग्वालियर. देश में एक तरफ लव जिहाद और जबरन जबरदस्ती इस्लाम धर्म अपनाने के लिए दबाव बनाने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। मध्य प्रदेश के ग्वालियर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक ब्राह्मण परिवार के 25 सदस्यों ने इस्लाम धर्म अपनाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी को लेटर लिखा है और इजाजत मांगी है। लेटर में पड़ोसी को इसके पीछे की वजह बताया है। परिवार का आरोप है कि पड़ोसी उन्हें आए दिन प्रताड़ित करता है। पीड़ितों ने कहा- पड़ोस में रहने वाले हिंदू इतना परेशान करते हैं कि अब हम धर्म बदलने की सोच रहे हैं। वो लोग जान से मारने और एससी-एसटी एक्ट में फंसाने की धमकी देते रहते हैं। परेशान करने वाले परिवार में कुछ लोग भाजपा और हिंदू संगठन से जुड़े हैं। जिसके चलते पुलिस हमारी कोई सुनवाई नहीं कर रही है।

'मुस्लिम समाज ही मदद की आस'
पीड़ित परिवार ने एसडीएम कार्यालय में ज्ञापन देते हुए हिंदू बनने की अनुमति मांगी है। पत्र में लिखा है कि जब उनकी कोई हिंदू मदद नहीं कर रहा है तो ऐसे में मुस्लिम समाज का ही सहारा बचता है। हालांकि, प्रशासन और पुलिस के अधिकारों ने पीड़ित परिवार को समझाया है कि वह उनकी हर संभव मदद करेंगे। परेशान करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। मंगलवार को सीएसपी आत्माराम शर्मा ने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर मदद करने का अश्वासन दिया है।

आए दिन होते हैं मानसिक प्रताड़ित
बता दें कि पंडित अजय शर्मा अपने परिवार के साथ ग्वालियर के माधवगंज के आपागंज इलाके में रहते हैं। उनका आरोप है कि पास में रहने वाले उमरैया परिवार उन्हें काफी परेशान करता है। आए दिन गाली-गलौच करना, जान से मारने की धमकी देना और एससी-एसटी एक्ट फंसाने की धमकी देता है। हम इस डरे हुए हैं, अगर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो मजबूरन हमें इस्लाम अपनाना पड़ेगा। अगर हम कुछ कहते हैं तो वह लोग राजनीतिक पावर होने के चलते झूठे मामलों में फंसाने की बात करते हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ पत्र
9 जुलाई को पीड़ित परिवार ने यह लेटर प्रधानमंत्री मोदी को लिखा था। अजय और उनके परिवार के 25 सदस्यों ने हिंदू धर्म छोड़कर मुस्लिम धर्म अपनाने की बात कही है। परिवार ने ग्वालियर के डीएम कौशलेन्द्र विक्रम सिंह और एसपी अमित सांघी को भी अपना ज्ञापन सौंपा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios