Asianet News Hindi

यह कैसा मजाक: किसान ने भरा 1 हजार रुपए का प्रीमियम, फसल बीमा के नाम पर मिला 1 रुपया


मध्य प्रदेश में किसनों से संबंधित एक हैरान कर देने वाला मामला आया है। जहां एक किसान ने प्रीमियम राशि 1 हजार 50 रुपए भरी और उसको फसल बीमा के नाम पर मिली 1 रुपया मिला।
 

madhya pradesh betul farmer got an amount of 1 rupees crop insurance farmer kpr
Author
Betul, First Published Sep 19, 2020, 7:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


बैतूल. मध्य प्रदेश में इस समय 27 सीटों को लेकर होने वाले उपचुनाव को लेकर सियासत जोरों पर है। प्रदेश की दोनों पार्टियां के नेता एक-दूसरे के खिलाफ बयानबाजी कर रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जहां कांग्रेस सरकार पर किसानों को धोखा देने का आरोप लगा रहे हैं तो वहीं एक चुनावी सभा के दौरान पूर्व सीएम कमलनाथ भी दावे के साथ बोला कि मैंने 26 लाख किसानों का कर्ज माफ किया है। शिवराज आ जाएं में इनका रिकॉर्ड देने को तैयार हूं। इसी बीच किसनों से संबंधित एक हैरान कर देने वाला मामला आया है। जहां एक किसान ने प्रीमियम राशि 1 हजार 50 रुपए भरी और उसको फसल बीमा के नाम पर मिली 1 रुपया मिला।

एक लाख की फसल खराब हुई, बीमा मिला 1 रुपया
दरअसल, यह रोचक मामला बैतूल जिले के गोधना गांव का है, जहां के किसान पूरनलाल के साथ प्रदेश सरकार ने मजाक किया है। लेकिन उससे लिए यह मजाक किसी सदमे से कम नहीं है। पूरनलाल के बैंक खाते में महज एक रुपया बीमा के तौर पर आया हुआ है। वहीं जिले के ऐसे सैंकड़ों किसान हैं जिनकी बीमा के तौर पर 50 या 100 रुपए आई है। किसान का कहना है कि उसने  ढाई हेक्टेयर के रकबे में लगभग एक लाख की फसल खराब हुई थी। लेकिन जिस तरह से सरकार ने यह कारनामा किया है उस पर समझ नहीं आ रहा है कि हम हसें या रोएं।

 कृषि अधिकारियों को इस बारे मे कोई जानकारी नहीं
बता दें कि सरकार प्रदेश के 22 लाख से ज्यादा किसानों को फसल बीमा देने का दावा कर रही है। लेकिन इस तरह से बीमा किसानों को दिया गया है तो वह बहुत ही हास्यास्पद है। वहीं फसलों के नुकसान के एवज में मिली बीमा राशि को लेकर कृषि विभाग के पास भी सही जानकारी नहीं हैउनका कहना है कि नुकसान का आकलन बीमा कंपनी करती है। हालांकि बताया जा रहा है कि जिन लोगों की 200 रुपए से कम राशि आई है उसको वापस कंपनी के पास भेजा जा रहा है। साथ संबंधित लोगों से इस मामले में पूछताछ होगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios