Asianet News Hindi

चुनाव जीतने के बाद नए अंदाज में CM शिवराज, अपने खेत में बेटे के साथ ट्रैक्टर से बुआई करते आए नजर

शुक्रवार को सीएम शिवराज सिंह बेटे कार्तिकेय के साथ विदिशा पहुंचे थे। जहां उन्होंने करीब 20 मिनट तक ट्रैक्टर की स्टेयरिंग थामकर खेत की जुताई की। सोशल मीडिया पर उनका यह किसान अवतार वाला वीडियो खूब वायरल हो रहा है।

madhya pradesh  cm Shivraj Singh Chouhan holding tillage of tractors in his field with son kartikeya KPR
Author
Vidisha, First Published Nov 14, 2020, 10:15 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


भोपाल. मध्य प्रदेश उपचुनाव में मिली बंपर जीत के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह नए अंदाज में दिखे। वह अपने खेत में बेटे कार्तिकेय के साथ खुद ट्रैक्टर चलाकर जुताई करते हुए नजर आए। इस तरह सीएम ने  गेहूं की फसल के साथ बुआई की शुरूआत की। बता दें कि शिवराज सिंह पेशे से किसान हैं। उनकी विदिशा से लेकर सीहोर में जमीन है। वह 1991 से 2006 तक विदिशा से 5 बार सांसद रहे हैं। उनका जन्म सीहोर जिले में हुआ है।

20 मिनट तक ट्रैक्टर की स्टेयरिंग थामे रहे सीएम
दरअसल, शुक्रवार को सीएम शिवराज सिंह बेटे कार्तिकेय के साथ विदिशा पहुंचे थे। जहां उन्होंने करीब 20 मिनट तक ट्रैक्टर की स्टेयरिंग थामकर खेत की जुताई की। सोशल मीडिया पर उनका यह किसान अवतार वाला वीडियो खूब वायरल हो रहा है।

सीएम ने कहा-मैंने बैलों से खेत की बुआई की है
इस मौके पर सीएम ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वह किसान पुत्र हैं। बचपन में वह पिता के साथ खेती करते थे। तब उनके पास कोई ट्रैक्टर नहीं होते थे। इसलिए मैंने उस समय बैलों के जरिए खेत बुआई करता था। उन्होंने कहा कि 'उत्तम खेती' सचमुच में खेती करने का आनंद ही अलग है। 

किसान की बदौलत करोड़ों लोगों का भरता है पेट
बता दें कि पिछले साल भी सीएम शिवराज अपने विदिशा वाले खेत में ट्रैक्टर के जरिए फसल की बुआई करते हुए नजर आए थे। उन्होंने कहा कि खेती करने से आत्मा सुख मिलता है। किसान जिस गेंहू को मेहनत करके उगाते हैं, उसके देश के लाखों करोंडों लोगों का पेट भरता है।

खेती कठिन काम है, लेकिन इसमें आत्म मिलता है
सीएम ने कहा कि इस आधुनिक युग में ट्रैक्टर से खेती होने लगी है। जिसकी वजह से बैल बेरोजगार हो गए हैं। एक समय में भी बैल जोतता था, लेकिन बदलते समय में मैंने भी आज ट्रैक्टर से ही गेहूं की बोवनी की। उन्होंने कहा वास्तव में खेती करने बहुत ही कठिन काम है, लेकिन फिर भी इस काम में आनंद आता है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios