Asianet News Hindi

कोरोना की दूसरी लहर से टेंशन में CM शिवराज, शाम 6 से सुबह 6 बजे तक बंद होगा मध्य प्रदेश?

 मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को देर शाम कारोना के वर्तमान हालातों की समीक्षा बैठक की। मंत्रालय में शाम 6:30 बजे शुरु हुई यह बैठक रात 10 बजे तक चली। 

madhya pradesh corona alert cm shivraj singh chouhan big announcement   all mp closed from 6 in the evening to 6 in the morning KPR
Author
Bhopal, First Published Mar 31, 2021, 10:30 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। महामारी पर नियंत्रण करने के लिए राज्य सरकार ने नाइट कर्फ्यू से लेकर हर संडे को टोटल लॉकडाउन लगा रखा है। वहीं अब सीएम शिवराज सिंह चौहान कोरोना की दूसरी लहर की रफ्तार लगातार बढ़ने से चिंतित हैं। उन्होंने मंत्री और अफसरों के साथ बैठक कर नई गाइडलाइन जारी की है। जिसके तहत अब मध्य प्रदेश को शाम 6 से सुबह 6 बजे तक बंद करने पर विचार किया जा रहा है।

सीएम शिवराज ने की आपात बैठक
दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को देर शाम कारोना के वर्तमान हालातों की समीक्षा बैठक की। मंत्रालय में शाम 6:30 बजे शुरु हुई यह बैठक रात 10 बजे तक चली। हालांकि इसमें कोई निर्णय नहीं हो पाया है। इसके लिए अब मुख्यमंत्री ने आज बुधवार को दोपहर 12 बजे एक बार फिर सभी जिलों के कलेक्टरों, कमिश्नरों के अलावा मेडिकल कॉलेजों के डीन और सीएमएचओ से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात करेंगे। इसके बाद आगे की रणनीति तय की जाएगी।

शाम 6 से सुबह 6 बजे तक बंद होगा मध्य प्रदेश
मंत्रालय सूत्रों ने बताया कि बैठक में सुझाव दिया गया कि कोरोना को कंट्रोल करने के लिए प्रदेश की सभी दुकानें और बाजार 12 घंटे का बंद रखा जाए। यानी दुकानें खासकर बाजार शाम 6 से सुबह 6 बजे तक बंद रहें।

हर हाल में लगाना है कोरोना पर अंकुश
होली उत्सव को लेकर भी सीएम शिवराज ने गाइडलाइन जारी की थी। जिससे किसी तरह कोरोना पर अंकुश लग सके। उन्होंने कहा था कि हमारे त्योहार महत्वपूर्ण हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए हम ये त्योहार परिवार के साथ घर पर भी मना सकते हैं। संक्रमण रोकना है, तो भीड़भाड़ से बचना होगा। इसलिए इस बार लोगों ने अपने धरों में होली मनाई थी।

दूसरे राज्यों की सीमा पर बनाए गए चेकिंग प्वाइंट
कोरोना की रोकथाम के लिए राजस्थान और गुजरात सीमा पर चेकिंग प्वाइंट बनाए गए हैं। इसी तरह निवाड़ी जिले की सीमा जो कि उत्तर प्रदेश से लगी है, वहां भी चेकिंग प्वाइंट बने हैं। मुख्यमंत्री ने अपने आदेश  कहा था कि दूसरे राज्यों की इन सीमाओं पर सतर्कता बरती जाए। खासकर महाराष्ट्र से लगे जिलों में विशेष सतर्कता रखी जाए।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios