Asianet News Hindi

MP के कलेक्टर का अजीब फरमान: वैक्सीन नहीं तो वेतन नहीं, अफसर के आदेश से संकट में सरकारी कर्मचारी

एमपी दतिया जिले कलेक्टर संजय कुमार ने सरकारी कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन अनिवार्य रूप से लगवाने अजीब आदेश जारी किया है। जिसके मुताबिक, अगर किसी कर्मचारी ने 24 मई तक वैक्सीन नहीं लगवाई तो उसे अगले महीने का वेतन नहीं मिलेगा।

madhya pradesh datia collector order no vaccinated no salary government employee kpr
Author
Datia, First Published May 22, 2021, 7:17 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

दतिया (मध्यप्रदेश). कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने शहर से लेकर गांव तक तबाही मचाकर रखी हुई है। हालांकि पिछले कुछ दिन से संक्रमण के मामलों में गिरावट आई है। वहीं दूसरी तरफ महामारी से निपटने के लिए हथियार के रुप में वैक्सीनेशन तेजी से चल रहा है। इसी बीच एमपी दतिया जिले के कलेक्टर संजय कुमार ने सरकारी कर्मचारियों के लिए वैक्सीन लगवाना अनिवार्य कर दिया है। साथ ही अजीब आदेश निकालकर कहा कि जिसने भी वैक्सीन नहीं लगवाई उसका वैतन काट लिया जाएगा। 

वैक्सीन नहीं तो वेतन नहीं
दरअसल, दतिया कलेक्टर संजय कुमार ने यह आदेश शुक्रवार को निकाला है। जिसके मुतबिक जिले के सभी सरकारी कर्मचारियों को 24 मई तक वैक्सीन लगवाना है। साथ ही अगले दिन  25 मई तक वैक्सीनेशन का  सर्टीफिकेट सीनियर अधिकारी को देना होगा। जिसके आधार पर उसकी जांच की जाएगी। अगर वैक्सीन नहीं लगी तो अगले माह का वेतन काटा जाएगा

इस आदेश ने कर्मचारियों को संकट में डाला
बता दें कि कलेक्टर साहब के इस आदेश ने जिले के कर्मचारियों को संकट डाल दिया है। क्योंकि इन कर्मचारियों के लिए वैक्सीन का स्लॉट ही खाली नहीं मिल रहा है। वहीं कुछ ऐसे भी कर्मचारी हैं जो कोरोना से संक्रमित हो गए थे और डॉक्टरों ने उनको तीन महीने बाद वैक्सीन लगवाने की सलाह दी है।

गृह विभाग ने आदेश को बताया गलत
इस आदेश से पूरे दतिया जिले के करीब पांच हजार सरकारी कर्मचारी प्रभावित होंगे। मामला मीडिया में आने के बाद जब इस पर  गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा से बात हुई तो उनका कहना है कि इस तरह के आदेश के संबंध में गृह विभाग के कोई सूचना नहीं है। ऐसा आदेश देना एक दम गलत है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios