Asianet News Hindi

जिंदा आदमी की निकाली शव यात्रा, लोग मातम भी मना रहे..अंत में अर्थी से उठ युवक ने सुनाई दर्दभरी कहानी

अर्थी पर लेटे व्यक्ति ने बताया कि मैं एक किसान हूं, काफी दिनों पहले सोयाबीन की फसल खेतों में बोवनी की है। लेकिन बारिश नहीं होने से वह सूखने की कगार पर पहुंच गया है। बड़ी मिन्नतों से हम भगवान से प्रार्थना कर रहे हैं कि बारिश हो जाए।

madhya pradesh news  alive people carried out the funeral procession for its not raining
Author
Jhabua, First Published Jul 10, 2021, 7:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

झाबुआ (मध्य प्रदेश). 10 जुलाई हो गई, लेकिन देश के अधिकतर राज्यों में अभी भी बारिश नहीं हो रही है। किसान से लेकर हर आदमी यही दुआ कर रहा है कि पानी बरसे। क्योंकि लोग भीषण गर्मी से परेशान हैं। इसी बीच मध्य प्रदेश के झाबुआ में पानी बरसने के लिए लोग तरह तरह के टोना टोटका कर रहे हैं। ताकि इंद्र देव प्रसन्न हो और बरसात करा दें। मन्नत पूरी करने के लिए वह जिंदा व्यक्ति की अर्थी तक निकाल रहे हैं।

जिंदा की निकाली शव यात्रा..लोग पीछे चल रोए जा रहे थे
दरअसल, बारिश नहीं होने की वजह से ग्रामीण टोना-टोका का सहारा लेते हैं। ऐसी ही एक तस्वीर झाबुआ शहर से सामने आई है, जिसे देख लोग हैरान हैं। यहां लोगों ने बारिश होने के लिए अशोक नाम के जिंदा युवक की अर्थी निकाली। लोगों का ऐसा मानना है कि जिंदा में किसी की अर्थी निकाली जाए तो पानी बरसता है। लोगों ने ठीक उसी तरह अर्थी बनाई हुई थी, जैसे किसी के मरने के बाद बनाई जाती है। लोग रोते हुए शव शव  यात्रा पूरे गांव में निकाल रहे थे और पीछे-पीछे चले जा रहे थे। 

किसान ने सुनाई अपनी दर्दभरी कहानी
अर्थी पर लेटे व्यक्ति अशोक ने बताया कि मैं एक किसान हूं, काफी दिनों पहले सोयाबीन की फसल खेतों में बोवनी की है। लेकिन बारिश नहीं होने से वह सूखने की कगार पर पहुंच गया है। बड़ी मिन्नतों से हम भगवान से प्रार्थना कर रहे हैं कि बारिश हो जाए, अगर बोवनी दोबारा करनी पड़ी तो किसान पूरी तरह से बर्बाद हो जाएंगे। क्योंकि बीच वाला सोयाबीन 10 से 12 रुपये क्विंटल बिक रहा है। इसलिए हमकों इस तरह के टोना-टोटका करने पड़ रहे हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios