Asianet News Hindi

भोपाल में कोरोना की डरावनी तस्वीर: चिता जलाने के लिए कम पड़ीं लकड़ियां..एक दिन में हुए इतने अंतिम संस्कार

पिछले साल 2020 में 18 सितंबर को 23 मौतें हुई थीं। जो मंगलवार को हुईं 18 मौतों से ज्यादा थीं। वहीं अगर इस पूरे महीने 1 से 30 मार्च की बात की जाए तो प्रशासन आंकड़े के मुताबिक, 132 अंतिम संस्कार राजधानी भोपाल में हो चुके हैं। 

madhya pradesh news bhopal news 18 corona patients cremated in one day all school closed kpr
Author
Bhopal, First Published Mar 31, 2021, 10:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। संक्रमित मरीजों के साथ-साथ मरने वालों की संख्या भी रिकॉर्ड तोड़ रही है। मंगलवार को राजधानी भोपाल में 18 कोरोना मरीजों का अंतिम संस्कार हुआ है। एक दिन में एक साथ मौतों का यह आंकड़ा साल 2021 में अब तक सबसे ज्यादा है।

चिता जलाने के लिए कम पड़ गईं लकड़ियां
दरअसल, भोपाल में कोरोना से मरने वालों का अंतिम संस्कार भदभदा, सुभाष नगर घाट और झदा कब्रिस्तान पर हो रहा है।  मंगलवार को जब शव श्मशान घाट पहुंचे तो यहां चिता जलाने के लिए इंतजार करना पड़ा। क्योंकि जगह कम पड़ गई थी। इतना ही नहीं शव जलाने के लिए लकड़ियां भी कम पड़ गईं।

एक महीने में हुए 132 अंतिम संस्कार 
बता दें कि इससे पहले पिछले साल 2020 में 18 सितंबर को 23 मौतें हुई थीं। जो मंगलवार को हुईं 18 मौतों से ज्यादा थीं। वहीं अगर इस पूरे महीने 1 से 30 मार्च की बात की जाए तो प्रशासन आंकड़े के मुताबिक, 132 अंतिम संस्कार राजधानी भोपाल में हो चुके हैं। जो जनता से लेकर सरकार को चिंता में डालने के लिए हैं।

51 हजार के पार हुई मरीजों की संख्या
राजधानी भोपाल में संक्रमितों की संख्या 51 हजार के पार पहुंच गई है। इसमें से करीब 46 हजार मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। कोरोना से अब तक करीब 630 मरीजों की मौत हो चुकी है। अभी भोपाल में 4 हजार के आसपास एक्टिव केस है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios