भोपाल. अभी एक तरफ मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में अवैध शराब से मरने वालों का मामला दबा नहीं है कि अब प्रदेश सरकार ने  शराब की ऑनलाइन बिक्री को मंजूरी देने की तैयारी कर ली है। बताया जा रहा है कि इसके लिए वाणिज्य कर विभाग ने एक प्रस्ताव मुख्यमंत्री सचिवालय को भेज दिया है। जिसकी मंजरी मिलने के बाद इस प्रस्ताव को कैबिनेट में लाया जाएगा।

सिर्फ सीएम के फैसले का है इंतजार
दरअसल, मध्य प्रदेश में शिवराज सरकर यह कदम प्रदेश में शराब का अवैध कारोबार रोकने और रेवेन्यू बढ़ाने के लिए ऑनलाइन बिक्री करने की तैयार करने जा रही है। प्रदेश के आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इस मामले पर अभी विचार कर रही है। जल्द ही मुख्यमंत्री इस पर फैसला लेने वाले हैं। जल्द ही प्रदेश सरकार आबकारी विभाग में कई बदलाव करने जा रही है। इस बदलाव से अवैध शराब का करोबार बंद हो जाएगा।

नकली शराब पर अब अफसरों को छोड़ा नहीं जाएगा
आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा ने कहा कि अब से प्रदेश में कोई नकली शराब नहीं मिलेगी। इसके लिए जिले वार अधिकारियों की जिम्मेदारी लगा दी गई है। साथ ही बड़े अफसरों को भी इस मामले पर सख्त हिदायत दे दी गई है। वहीं विभाग ने अपनी तरफ से  शराब की ऑनलाइन बिक्री की पूरी तैयारी भी कर ली है।