Asianet News HindiAsianet News Hindi

गजब मामला: यहां एक मजदूर की सुरक्षा में 24 घंटे रहती है पुलिस, गाड़ी चलाने से लेकर घर तक रहता पहरा

मध्य प्रदेश के टीमकमगढ़ जिले में एक मजदूर के साथ 24 घंटे एक पुलिस का जवान सुरक्षा में तैनात रहता है। यह सब हाईकोर्ट के आदेश पर हो रहा है। जिसके चलते मजदूर को यह सुरक्षा मुहैया कराई गई है।

madhya pradesh news Police gives 24 hour security to the laborer in tikamgarh
Author
Tikamgarh, First Published Aug 18, 2021, 1:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

टीकमगढ़ (मध्य प्रदेश). अक्सर आपने पुलिस को सेलिब्रिटी और नेताओं की सुरक्षा देते सुना और देखा होगा। लेकिन मध्य प्रदेश के टीमकमगढ़ जिले में एक मजदूर के साथ 24 घंटे एक पुलिस का जवान सुरक्षा में तैनात रहता है। यह सब हाईकोर्ट के आदेश पर हो रहा है। जिसके चलते मजदूर को यह सुरक्षा मुहैया कराई गई है।

दिल्ली से आते ही मजदूर के साथ हो जाती है पुलिस
दरअसल, इस मजदूर का नाम तुलसीदास अहिरवार है जो कि मूलरुप से टीकमगढ़ जिले के मवई गांव का रहने वाला है। लेकिन फिलहाल वह दिल्ली में रहता और वहां पर मजजूरी करता है। जब कभी वह दिल्ली से टीकमगढ़ आता है तो पुलिस जवान उसकी सुरक्षा में 24 घंटे तैनात रहता है। क्योंकि उसने अपनी जान को खतरा बताते हुए हाईकोर्ट से सुरक्षा जो मांगी थी।

यहां शुरू हुआ पूरा मामला
मामले की शुरुआत साल 2017 में हुई थी, जब मवई गांव में एक बैंक मैनेजर कुमार जैन ने केसीसी की लिमिट बढ़ाने के लिए घसिया अहिरवार नाम के युवक से 4 हजार रुपए की रिश्वत ली थी। जब यह बात घसिया के भतीजे तुलसीदास  को पता चली तो उसने जबलपुर में जाकर सीबीाई से की। इसके बाद सीबीआई ने बैंक मैनेजर पर नजर रखना शूरू कर दिया और उसे रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ पकड़ लिया। फिलहाल इस मामले की सुनवाई सीबीआई अदालत में चल रही है।

अदालत ने इसलिए मुहैया कराई सुरक्षा
बता दें कि बैंक मैंनेजर और उसके साथियों ने तुलसीदास पर लगातार बयान बदलने का दबाव बनाया लेकिन वह नहीं माना। इसी बीच तुलसीदास के भतीजे शंकर अहिरवार का शव जंगल मे एक पेड़ से लटका मिला। तुलसीदास ने इस मामले में बैंक मैंनेजर पर हत्या का आरोप लगाया और  जबलपुर हाईकोर्ट में याचिका दायर की। जिसमें उसने लिखा की आरोपी ने उसके भतीजे को मार दिया है, वह मुझे भी जान से मारने की धमकी देता है। मेरी जान खतरे में है, इसलिए मुझे सुरक्षा मुहैया कराया जाए।

टीकमगढ़ आते ही पुलिस का जवान हो जाता है साथ
इसी महीने 4 अगस्त को जबलपुर हाईकोर्ट के जज जस्टिस संजय द्विवेदी ने सुनवाई करते हुए टीकमगढ़ पुलिस को आदेश दिया कि तुलसीदास की सुरक्षा में  एक पुलिस का जवान तैनात रहेगा। इसी के चलते जब कभी वह मामले की सुनवाई के लिए टीकमगढ़ आता है तो उसके साथ 24 घंटे पुलिस का जवान तैनात रहता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios