Asianet News Hindi

राहुल गांधी के बयान पर कमलनाथ ने दिया जवाब, कहा-वो उनकी राय..मैं खेद जता चुका हूं..माफी क्यूं मांगू

कमलनाथ से जब मीडिया ने राहुल की टिप्पणी पर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि मैं पहले ही कह चुका हूं कि वह बयान मैंने किस संदर्भ में दिया था। मैं अब क्यों इस पर माफी मांगू, मैंने तो कल ही कह दिया था कि अगर किसी को ठेस पहुंची हो तो खेद मुझे खेद है।  

madhya pradesh news rahul gandhi on kamlanath statement about imarti devi item speech kpr
Author
Bhopal, First Published Oct 20, 2020, 4:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के 'आइटम' वाले बयान पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने असहमति जताई है। उन्होंने कहा कि कि मुझे ऐसी भाषा पसंद नहीं है, मैं ऐसी भाषा की सराहना नहीं करता हूं।  अब राहुल की इस टिप्पणी पर कमलनाथ ने बयान दिया है उन्होंने कहा कि यह राहुल गांधी की निजी राय है, लेकिन मैं पहले ही खेद जता चुका हूं माफी क्यों मांगू।

कमलनाथ ने कहा-इसमें और कुछ कहने की जरुरत नहीं
दरअसल, कमलनाथ से जब मीडिया ने राहुल की टिप्पणी पर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि मैं पहले ही कह चुका हूं कि वह बयान मैंने किस संदर्भ में दिया था। मैं अब क्यों इस पर माफी मांगू, मैंने तो कल ही कह दिया था कि अगर किसी को ठेस पहुंची हो तो खेद मुझे खेद है।  इसमें और कुछ कहने की आवश्यकता नहीं है। 

राहुल गांधी ने कमलनाथ को लेकर कही ये बात
बता दें कि राहुल गांधी केरल के वायनाड के दौरे पर हैं, जहां उनसे पत्रकारों ने इस विवादित बयान के बार में सवाल पूछा था। जिसको लेकर राहुल ने कहा कि जिस तरह से हम महिलाओं के साथ व्यवहार करते हैं, उसे सुधारने की जरूरत है, महिलाएं हमारी शान हैं, मैं ऐसी भाषा की सराहना नहीं करता हूं। कमलनाथ भले ही मेरी पार्टी के हैं, वे चाहे जो भी हों, लेकिन जिस भाषा का उन्होंने इस्तेमाल किया है, मैं निजी तौर पर उसे पसंद नहीं करता।


यह है पूरा मामला...
बता दें कि दो दिन पहले कमलनाथ ने डबरा में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए शिवराज कैबिनेट में मंत्री इमरती देवी पर अभद्र टिप्पणी की थी। जहां उन्होंने इमरती देवी का नाम नहीं लेते हुए उनके 'आइटम' शब्द का इस्तेमाल किया था। जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी के तमाम नेताओं ने इस बयान की निंदा करते हुए कमलनाथ की शिकायत चुनाव आयोग तक से कर दी। वहीं सीएम शिवराज  ने तो इस मामले को लेकर उपवास तक रखा था और वहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी चिट्टी लिख मामले पर संज्ञान लेने की बात कही गई थी।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios