Asianet News HindiAsianet News Hindi

MP: नरोत्तम मिश्रा बोले- ‘रामधुन पर फतवा ना जारी कर दें सोनिया’, दिग्विजय ने ऐसे दिया करारा जवाब

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में एक बार फिर भाजपा-कांग्रेस आमने सामने है। भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा (BJP MLA Rameshwar Sharma) के विवादित बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार को रामधुन गाकर भोपाल (Bhopal) में उनके (शर्मा) घर के पास प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन पर शिवराज सरकार में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने दिग्विजय सिंह समेत कांग्रेस पर निशाना साधा। 

MP Bhopal Narottam Mishra warns Digvijay says Sonia Gandhi might issue fatwa on Ramdhun remark
Author
Bhopal, First Published Nov 25, 2021, 9:44 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में एक बार फिर भाजपा-कांग्रेस आमने सामने है। भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा (BJP MLA Rameshwar Sharma) के विवादित बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार को रामधुन गाकर भोपाल (Bhopal) में उनके (शर्मा) घर के पास प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन पर शिवराज सरकार में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने दिग्विजय सिंह समेत कांग्रेस पर निशाना साधा। मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और पार्टी नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) रामधुन (Ramdhun) गाने पर कहीं िदग्विजय के खिलाफ फतवा ना जारी कर दें। मिश्रा के इस बयान पर दिग्विजय ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि मंत्रीजी को कोई गंभीरता से नहीं लेता। उनको मैं तब से जानता हूं जब वे बस स्टैंड पर कंडक्टरों से वसूली करते थे और अब सरकार में रहकर उगाही कर रहे हैं।

दरअसल, पूर्व प्रोटेम स्पीकार और हुजूर से भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने एक कार्यक्रम में कांग्रेसियों को लेकर चेतावनी जारी की थी। उन्होंने कहा था कि कांग्रेसियों के घुटने तोड़ने को कहा था। इस विवादित बयान पर राज्यसभा सांसद और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार को रामधुन गाकर भोपाल स्थित उनके (शर्मा) घर के पास प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन पर गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने तंज कसा और कहा कि अच्छा है ‘चचाजान' अब रामधुन गाएंगे। दिग्विजयजी को एक बात ध्यान में रखनी चाहिए कि रामधुन गाने पर कहीं सोनिया गांधीजी या राहुल गांधीजी उनके खिलाफ फतवा ना जारी कर दें। 

पहले कंडक्टरों से वसूली करते थे, अब कलेक्टर-एसपी से उगाही कर रहे: दिग्विजय
इस बयान पर दिग्विजय सिंह ने पलटवार किया और व्यक्तिगत हमले किए। सिंह ने कहा- ‘नरोत्तम मिश्रा डबरा में बस स्टैंड पर कंडक्टरों से 20 रुपए वसूली करते थे। अब वह कलेक्टर और एसपी से वसूली कर रहे हैं। मैं उन्हें गंभीरता से नहीं लेता। उन्हें डबरा में बस स्टैंड पर काम करना चाहिए।'

पुलिस ने कांग्रेसियों को रामेश्वर के घर से पहले रोका
इससे पहले दिग्विजय ने बुधवार को भोपाल में मिंटो हॉल परिसर स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ शर्मा के घर की तरफ रामधुन गाते हुए कूच किया। लेकिन पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रास्ते में रोक लिया। शर्मा का घर मिंटो हॉल से करीब एक किलोमीटर दूर है। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता अपने हाथों में बैनर लिए हुए थे, इनमें लिखा था- ‘रामेश्वर शर्मा जी हम आ गए हैं, आप हमारे घुटने तोड़ो।'

रामेश्वर शर्मा ने ये कहा था... दिग्विजय ने घर आने का ऐलान किया था
भाजपा विधायक शर्मा ने शहर के रातीबड़ क्षेत्र के कलखेड़ा गांव में कहा था- ‘कांग्रेस का इधर कोई आए तो उसके घुटने तोड़ दो। दलालों को नो एंट्री। दलाली नहीं करने देंगे, तभी नगर सुरक्षित रहेगा। दिग्विजय सिंह आए, कुछ करके गए क्या?'' रामेश्वर के इस बयान का वीडियो वायरल हो गया था। इस पर कांग्रेस नेताओं ने आपत्ति जताई थी। इसके बाद दिग्विजय ने भी उनके बयान पर ट्वीट कर कहा था, ‘मैं कांग्रेसी हूं। जिसमें ताकत हो तो मेरे घुटने तोड़ दे। मैं गांधीवादी हूं। हिंसा का जवाब अहिंसा से दूंगा। 24 नवंबर को मैं महात्मा गांधी की मूर्ति से रामेश्वर शर्मा के घर जाऊंगा। उनके घर जाकर प्रभु से सदबुद्धि देने के लिए एक घंटे तक रामधुन करूंगा।'

बाद में शर्मा ने दी थी सफाई
शर्मा ने बाद में स्पष्ट किया कि उन्होंने ये टिप्पणी 20 करोड़ रुपए की सरकारी जमीन के बारे में की थी जिसे कलखेड़ा गांव के एक सरपंच ने बेच दिया था। उन्होंने ये भी आरोप लगाया था कि दिग्विजय इस सरपंच को बचा रहे हैं। दिग्विजय के ट्वीट के बाद शर्मा ने अपने घर को पूरी तरह से राम के रंग में रंग दिया और वहां मंगलवार से ही रामधुन बजने लगी और रामचरित मानस गान होने लगा। दिग्विजय और अन्य प्रदर्शनकारियों के लिए हलवा और पूड़ी की व्यवस्था की गई। उनके स्वागत की पूरी तैयारी की गई थी।

दिग्विजय को राम अपनी शरण में नहीं आने देते
शर्मा ने कहा था- ‘मैं भगवान राम के भक्तों का स्वागत करूंगा। वह (दिग्विजय) रामधुन में कैसे आ सकते है? जिंदगीभर उन्होंने (दिग्विजय) राम का विरोध किया है। उन पर राम की कृपा नहीं। उन्हें भगवान भी अपने चरणों में नहीं आने देता।' 

सड़क पर बैठ रामधुन गाते रहे Digvijay Singh, बीजेपी विधायक देखते रह गए..दे रखी है घुटने तोड़ने की चेतावनी!

'मैं आ रहा हूं आपके घर दम हो तो मेरे घुटने तोड़ना', Digvijay Singh ने दिया BJP विधायक को खुला चैलेंज

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios