दमोह (मध्य प्रदेश), कोरोना के कहर में जहां लोग अपने घरों से नहीं निकल पा रहे हैं। इसी बीच मध्य प्रदेश से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। है। जहां दरिंदों ने एक  6 साल की मासूम बच्ची  साथ दरिंदगी जैसी घिनौनी घटना को अंजाम दिया गया।

मानवता को शर्मसार करने वाली घटना
दरअसल, मानवता को शर्मसार करने वाली यह वारदात दमोह शहर में हुई। जहां हैवानों ने बच्ची के हाथ-पैर बांधकर उसके साथ रेप किया। इतना ही नहीं इन हैवानों ने मासूम की दोनों आंखें भी फोड़ दीं और वह उसको मरा समझकर घटना स्थल से भाग खड़े हुए। पीड़िता को फिलहाल जबलपुर के हॉस्पिटल में भर्ती कर दिया गया है।

सीएम शिवराज दिए यह आदेश
घटना की जानकारी लगते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्थानीय प्रशासन को तत्काल आरोपियों को हिरासत में लेने और उन पर कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। सीएम ने कहा-दरिंदों को कड़ी सजा मिलेगी।

मासूम के बंधे हुए थे हाथ-पैर, फूटी हुई थीं आंखें
मामले की जानकारी देते हुए एसपी हेमंत चौहान ने बाताया कि यह घटना जबेरा थाना क्षेत्र के बंतीपुर गांव में बुधवार शाम घटी। करीब 5 बजे बच्ची अपने घर के सामने खेल रही थी, इसी दौरान वह अचानक गायब हो गई। ग्रामीणों ने देर रात तक बच्ची को बहुत तलाशा, लेकिन वह नहीं मिली। फिर दूसरे दिन उसका शव एक खेत में मिला, जहां उसके दोनों हाथ-पैर बंधे हुए थे और उसकी आंखों फूटी हुई थीं।

पूर्व कमलनाथ ने सीएम पर जमकर साधा निशाना
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा- इतनी नृशंस, दरिंदगी भरी घटना,वो भी लॉक डाउन के दौरान,जहां आमजन आवश्यक वस्तुओं के लिये भी घर से बाहर तक नहीं जा पा रहा है,वहाँ अपराधी खुलेआम घूम रहे है,प्रदेश में रेप,हत्या,किसान की हत्या,गोलीबाज़ी,चाकूबाज़ी की घटनाएँ जारी। एक माह की आपकी सरकार प्रदेश को किस ओर ले जा रही है। शिवराज जी ,ये प्रदेश में क्या हो रहा है। लॉकडाउन में भी अपराधियों के हौसले बुलंद ? दमोह के जबेरा में एक मासूम बालिका की दोनो आँख फोड़ने व दरिंदगी की भी बात सामने आ रही है।