Asianet News Hindi

शराफत का चोला ओढ़कर बैठे लोगों को बेनकाब करने का चैलेंज देने वाले गोरक्षा प्रमुख का सरेआम मर्डर

मध्य प्रदेश के पिपरिया में गोरक्षा प्रमुख की हत्या से सनसनी फैल गई है। घटना शुक्रवार शाम की है। करीब आधा दर्जन लोगों ने रवि विश्वकर्मा की कार रोककर हमला किया। उन्होंने ताबड़तोड़ गोलिया दागी। लाठियों और रॉड से प्रहार किया। लहूलुहान हिंदू नेता को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। इस घटना से शहर में तनाव का माहौल है। पुलिस ने इस मामले में 9 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस इसे गैंगवार से जोड़कर देख रही है। मृतक ने अपने फेसबुक पेज पर कुछ लोगों को बेनकाब करने का चैलेंज दिया था।

Piparia massacre, sensational murder of head of cow protection, gaurakshak in Madhya Pradesh kpa
Author
Bhopal, First Published Jun 27, 2020, 12:50 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल, मध्य प्रदेश. फेसबुक पर कुछ लोगों के चेहरे बेनकाब करने का चैलेंज देने वाले गोरक्षा प्रमुख की शुक्रवार शाम हत्या किए जाने का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। घटना पिपरिया शहर की है। करीब आधा दर्जन लोगों ने गोरक्षा प्रमुख रवि विश्वकर्मा की कार रोककर हमला किया। उन्होंने ताबड़तोड़ गोलिया दागी। लाठियों और रॉड से प्रहार किया। लहूलुहान हिंदू नेता को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। इस घटना से शहर में तनाव का माहौल है। पुलिस ने इस मामले में 9 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस इसे गैंगवार से जोड़कर देख रही है। मृतक ने अपने फेसबुक पेज पर कुछ लोगों को बेनकाब करने का चैलेंज दिया था। हमलवारों ने फिल्म अंदाज में हमला किया था। पुलिस इसे सुपारी किलिंग से भी जोड़कर देख रही है।


होशंगाबाद से लौटते वक्त रास्ते में किया हमला..
पुलिस के मुताबिक, मृतक शुक्रवार को अपने तीन साथियों के साथ होशंगाबाद किसी मीटिंग में गया था। वहां से लौटते वक्त शाम करीब 6.30 बजे काली मंदिर साइड से अंडरब्रिज पार करते ही बदमाशों ने अपनी गाड़ी अड़ाकर मृतक की कार रोक ली। इसके बाद हमला कर दिया। एसडीओपी शिवेंदु जोशी ने बताया मामला गैंगवार से जुड़ा हो सकता है। पिता विष्णु प्रसाद ने बताया रवि की शादी की तैयारियां चल रही थीं। पुलिस ने इस मामले में 9 लोगों नीतू वंशकार, मुन्ना पटेल, संजू पटेल, अभी तिवारी, अभिषेक चौरसिया, कल्लू मेहरा, नितिन सिलावट, रज्जू पुरबिया, अजीत पटेल और अन्य के खिलाफ हत्या और बलवे का केस दर्ज किया है। 

 

सिर्फ रवि को मारने आए थे
जांच-पड़ताल में सामने आया कि हमलावर पूरी तैयारी से रवि को मारने आए थे। रवि के साथी भूरा पटेल ने बताया कि हमलावरों की नीयत भांपकर रवि ने उसे और एक अन्य साथी को भागने का इशारा किया था। इस घटना से शहर में आक्रोश फैल गया। बड़ी संख्या में लोग अस्पताल में जमा हो गए। देर रात एएसपी अवधेश सिंह भी पिपरिया पहुंचे। इस मामले को बजरंग दल के पदाधिकारी राकेश रघुवंशी पर दर्ज किए गए आर्म्स एक्ट से जोड़कर भी देख रहे हैं। रवि ने इस मामले में पुलिस पर झूठा केस दर्ज करने का आरोप लगाया था।

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios