Asianet News HindiAsianet News Hindi

'मुंबई नाइटलाइफ' नीति का नहीं दिखा कोई खास असर, कई क्षेत्रों में बंद रहे मॉल

'नाइटलाइफ' को बढ़ावा देने के लिए 'मुंबई 24 आ‍वर्स' की नीति जागरुकता की कमी की वजह से कोई खास असर नहीं छोड़ पाई।

'Mumbai Nightlife' policy did not show much effect, malls were closed in many areas kpm
Author
Mumbai, First Published Jan 27, 2020, 2:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. मुंबई में लोगों को 'नाइटलाइफ' को बढ़ावा देने के लिए 'मुंबई 24 आ‍वर्स' की नीति जागरुकता की कमी की वजह से कोई खास असर नहीं छोड़ पाई।

राज्य मंत्रिमंडल ने 22 जनवरी को 'मुंबई 24 आवर्स' नीति को मंजूरी दे दी थी। इसके तहत गैर आवासीय इलाके में स्थित मॉल और खाद्य परिसरों में रात में रेस्त्रां, दुकान और थियेटर खुले रखने की मंजूरी है ताकि लोग रात में जीवन के आनंद ले सकें। यह नीति 26 जनवरी से लागू हो गई।

नरीमन प्वाइंट और वरली क्षेत्रों में कई मॉल रहे बंद 

राज्य पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे इसको लेकर आशावादी हैं। इस कदम के पीछे मुख्य तौर पर वह जुड़े हैं।

ठाकरे से जब देर रात मॉल बंद करने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कुछ सप्ताह में जब लोगों को यह महसूस होगा कि देर रात बाहर जाना और आनंद उठाना सुरक्षित है तो वह ऐसा करने लगेंगे। उन्होंने कहा कि उन दुकानों को रात में खोले जाने की अनुमति है जो सुरक्षा नियम का पालन करते हैं।

मुंबई सभी के लिए सुरक्षित है 

ठाकरे ने दोहराया कि मुंबई सभी के लिए सुरक्षित है और ऐसी बनी रहेगी। इस नीति के तहत दुकानों, मॉल और रेस्त्रां को खोलना वैकल्पिक है न कि अनिवार्य।


(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios