Asianet News HindiAsianet News Hindi

मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर की फोटो रऊफ मेमन के साथ वायरल होने पर बीजेपी ने पूछे सवाल

किशोरी पेडनेकर का आतंकी याकूब मेमन के रिश्तेदार रऊफ मेमन के साथ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पेडनेकर ने कहा कि वह नहीं जानती थीं कि जहां जनसमस्याओं को सुनने जा रही हैं वहां कोई आतंकवादी के परिवार का या रिश्तेदार मौजूद है।

BJP questioned Uddhav Thackeray for viral photo of ex Mayor Kishori Pednekar with Yakub Memon kin Rauf Memon, DVG
Author
First Published Sep 9, 2022, 11:39 PM IST

मुंबई। आतंकवादी याकूब मेमन के कब्र के सौन्दर्यीकरण को लेकर उद्धव ठाकरे की तत्कालीन सरकार को चारों तरफ से घेर रही है। बीजेपी ने महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर सीएम रहते हुए याकूब मेमन की कब्र को मजार में बदलने का आरोप लगाया है। याकूब मेमन के कब्र की एक फोटो वायरल हो रही है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि आतंकी की कब्र को संगमरमर और लाइट से सजाया गया है। मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर की एक पुरानी तस्वीर भी वायरल हो रही है। इस तस्वीर में वह आतंकवादी याकूब मेमन के किसी रिश्तेदार के साथ नजर आ रही हैं। बीजेपी ने इसे मुद्दा बना दिया है। 

किशोरी पेडनेकर ने दी सफाई

याकूब मेमन के केस में खुद बीएमसी की मेयर किशोरी पेडनेकर इस मामले में सफाई देने सामने आई हैं। उन्होंने कहा कि वह नहीं जानती थीं कि जिससे मिल रही हैं वह आतंकवादी का भतीजा है। बीएमसी की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि न तो बीएमसी और न ही राज्य सरकार ने कब्र को सजाने में कोई योगदान दिया। याकूब को दफनाने का शिवसेना, बीएमसी या महाविकास अघाड़ी प्रशासन से कोई संबंध नहीं है। मुंबई नगर निगम चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, शेलार और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले शहर के निवासियों में भ्रम पैदा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुंबई के हिंदुओं ने उद्धव ठाकरे का समर्थन किया और उनका समर्थन करना जारी रखेंगे।

मुंबई की मेयर ने एक टीवी डिबेट में याकूब मेमन के परिवार को जानने से इनकार किया। उन्होंने कहा,'मैं याकूब मेमन के रिश्तेदारों को नहीं जानती। मैं मेयर थी और लोगों के कहने पर वहां गई थी। मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा, मुझे नहीं पता था कि मेमन का कोई रिश्तेदार वहां मौजूद है।

क्या है ताजा मामला?

किशोरी पेडनेकर का आतंकी याकूब मेमन के रिश्तेदार रऊफ मेमन के साथ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पेडनेकर ने कहा कि वह नहीं जानती थीं कि जहां जनसमस्याओं को सुनने जा रही हैं वहां कोई आतंकवादी के परिवार का या रिश्तेदार मौजूद है। उसने स्पष्ट किया कि उसका याकूब के परिजनों के साथ कोई संबंध नहीं है और वह इस बात से अनजान थी कि उस समय याकूब के रिश्तेदार मौजूद है। उन्होंने कहा कि जब मस्जिद में जलजमाव की समस्या हुई तो वह कुछ नागरिक प्रतिनिधियों से मिलने गई थीं। वह वहां मेयर के रूप में गई थीं न कि किसी से व्यक्तिगत मुलाकात करने। पूर्व मेयर ने यह भी कहा कि उसे आतंकवादी की कब्र पर किए गए सौंदर्यीकरण कार्य की जानकारी नहीं थी।

आतंकवादी के कब्र के सौन्दर्यीकरण का फोटो हुआ है वायरल

1993 में मायनगरी मुंबई को दहलाने वाले आतंकवादी याकूब मेमन की कब्र की एक चौंकाने तस्वीर सामने आई है। फोटो में याकूब मेमन की कब्र को फूलों से सजाया गया है। साथ ही आसपास एलईडी लाइटिंग और मार्बल लगाई गई हैं। बीजेपी ने आरोप लगाया है कि यह सब उद्धव ठाकरे के सीएम रहते हुए हुआ है। हालांकि, बाद में मुंबई पुलिस ने कब्र से लाइट को हटवा दिया।

बीजेपी ने कहा- उद्धव ठाकरे को #पेंग्विनसेना को क्यों भाता है ?

दरअसल, भाजपा नेता राम कदम ने सोशल मीडिया पर याकूब मेनन की कब्र की तस्वीरें शेयर की हैं। इसके साथ ही उन्होंने उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए कहा कि आतंकी याकूब मेमन की कबर को मझार में तबदील करने का कुकर्म ऊधव ठाकरे के आंखो के सामने हुआ। क्या यही है ठाकरे का मुंबई से प्यार ? हज़ारों लोगों की जान लेने वाला आतंकी याकूब, इतना #पेंग्विनसेना को क्यों भाता है ? 

257 लोग मारे गए थे मुंबई बम धमाकों में...

मुंबई में 12 मार्च 1993 को 12 जगहों पर एक साथ बम ब्लास्ट हुए थे। जिसमें करीब 257 लोगों की मौतें हुई थीं। वहीं 700 से अधिक घायल हो गए थे। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) की 28 मंजिला इमारत की बेसमैंट में भी ब्लास्ट हुआ था। इसमें 50 लोग मारे गए थे। याकूब ही इन धमाकों की साजिश में शामिल था। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के इशारे पर मुंबई में सीरियल बम धमाके किए गए थे।
CBI ने 1994 में याकूब को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया था। जिसके बाद 2013 में सुप्रीम कोर्ट ने उसे दोषी ठहराया और 2015 में नागपुर जेल में याकूब को फांसी दी गई।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios