Asianet News HindiAsianet News Hindi

राहुल गांधी से मिले शिवसेना सांसद संजय राउत, कहा-कांग्रेस नहीं तो बीजेपी के खिलाफ किसी फ्रंट का मतलब नहीं

संजय राउत ने राहुल गांधी से मुलाकात के बाद साफ कह दिया कि कांग्रेस के बिना कोई भी गठबंधन बीजेपी के खिलाफ काम नहीं कर सकता। उन्होंने यह सवाल उठाया कि अगर ऐसा कोई गठबंधन बना तो कांग्रेस के साथ भी एक गठबंधन सामने आएगा। इससे बीजेपी को फायदा ही होगा।

maharashtra rahul gandhi shivsena mp sanjay raut meeting in delhi, says no congress no opposition alliance against bjp stb
Author
Mumbai, First Published Dec 7, 2021, 6:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई : UPA के अस्तित्व पर उठ रहे सवालों के बीच शिवसेना (Shiv Sena) के राज्यसभा सांसद और प्रवक्ता संजय राउत (Sanjay Raut) ने राहुल गांधी (Rahul gandhi) से मुलाकात की है। मंगलवार शाम कांग्रेस नेता राहुल गांधी से दिल्ली (delhi) स्थित घर पर दोनों नेताओं की मुलाकात हुई। हालांकि शिवसेना इस मुलाकात को रूटीन मुलाकात बता रही है, लेकिन जानकारों का मानना है कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के महाराष्ट्र (Maharashtra) दौरे के दौरान UPA को लेकर खड़े हुए सवालों को खत्म करने की एक कोशिश है।

कांग्रेस नहीं तो किसी फ्रंट का मतलब नहीं
करीब दो घंटे चली इस बैठक के बाद संजय राउत ने मीडिया से जो कहा उससे ममता बनर्जी की गैर कांग्रेसी दलों को इकट्ठा कर के बीजेपी के खिलाफ एक गठबंधन की उम्मीदों को झटका लगा है। संजय राउत ने मीटिंग के बाद साफ कह दिया कि बगैर कांग्रेस कोई भी गठबंधन बीजेपी के खिलाफ काम नहीं कर सकता। उन्होंने यह सवाल उठाया कि अगर ऐसा कोई गठबंधन बना तो कांग्रेस के साथ भी एक गठबंधन सामने आएगा। इससे बीजेपी (BJP) को फायदा ही होगा। संजय राउत ने कहा कि राहुल गांधी से हमारी लंबी बातचीच हुई, जो बातचीत हुई है, उसमें संदेश यही है कि सबकुछ ठीक है। राहुल गांधी से जो बात हुई है वो सबसे पहले मैं अपनी पार्टी के चीफ से बताऊंगा। उद्धव जी से बताऊंगा आदित्य जी से बताऊंगा। फिर आपको बताऊंगा।

क्या मैसेज देना चाहती है शिवसेना?
कहा जा रहा है कि इस मुलाकात के जरिए शिवसेना यह मैसेज भी देना चाहती है कि महाराष्ट्र विकास अघाड़ी यानी शिवसेना-एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congress) गठबंधन में सबकुछ ठीक है। अलायंस में किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं है। यह बताने की कोशिश है कि शिवसेना लगातार कांग्रेस के संपर्क में है और अपने मुद्दों को लेकर दोनों पार्टियों के बीच समन्वय स्थापित है।

क्या कहा था ममता बनर्जी ने?
दरअसल अपने महाराष्ट्र दौरे पर ममता बनर्जी NCP चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) से मिली थीं। इस मुलाकात के बाद उन्होंने मीडिया के सामने कहा कि UPA कोई गठबंधन नहीं है। यह खत्म हो चुका है। राहुल गांधी का नाम लिए बिना ही उन्होंने कहा था कि कोई कुछ करता नहीं है, विदेश में रहता है तो कैसे चलेगा? जिसके बाद UPA के अस्तित्व को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे थे।

इसे भी पढ़ें-mamta banerjee mumbai visit: राष्ट्रगान के वक्त कुर्सी पर बैठी रहीं दीदी; BJP नेता ने पुलिस में की शिकायत

इसे भी पढ़ें-शरद पवार से पॉलिटिकल डिस्कशन के बाद ममता बोलीं- UPA का अब अस्तित्व नहीं , राहुल गांधी को लेकर कही ये बात...

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios