Asianet News HindiAsianet News Hindi

समीर वानखेड़े को हाईकोर्ट से बड़ी राहत, बिना नोटिस नहीं होगी गिरफ्तारी, तीन दिन पहले देनी होगी जानकारी

हाईकोर्ट ने वानखेड़े को बड़ी राहत दी है। कोर्ट ने निर्देश दिया है कि उनकी गिरफ्तारी से तीन दिन पहले नोटिस देनी होगी। महाराष्ट्र सरकार ने भी कहा है कि वह वानखेड़े को बिना सूचना के गिरफ्तार नहीं करेगी।

maharastra Aryan Khan Drugs Case, sameer wankhede relief from bombey highcourt
Author
Mumbai, First Published Oct 28, 2021, 6:51 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई : आर्यन खान ड्रग्स केस (Aryan Khan Drugs Case) की जांच कर रहे NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (sameer wankhede) को बॉम्बे हाईकोर्ट ने बड़ी राहत दी है। हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को आदेश दिया है कि फिलहाल उनके खिलाफ कोई कड़ा एक्शन न लिया जाए और यदि वानखेड़े को इस मामले में गिरफ्तार किया जाता है तो उन्हें तीन दिन पहले नोटिस दिया जाए। समीर वानखेड़े ने बॉम्बे हाई कोर्ट में अर्जी दायर करके अंतरिम सुरक्षा की मांग की थी, साथ ही, उन्होंने कहा था कि यदि उनके खिलाफ जांच की जाती है तो वह CBI करे। इस समय मुंबई पुलिस उनके खिलाफ जांच कर रही है।

हाईकोर्ट की खटखटाया था दरवाजा
समीर वानखेड़े राज्य सरकार द्वारा गठित की गई SIT जांच के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंचे हैं। उन्होंने अपनी याचिका में कहा है कि जब जांच जारी है तो समानांतर जांच की क्या जरूरत है। उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच CBI अथवा दूसरी केंद्रीय एजेंसी को सौंपी जाए। समीर वानखेड़े की याचिका का राज्य सरकार ने विरोध किया। उन्होंने कहा कि वानखेड़े के खिलाफ फिलहाल चार कंप्लेंट मिली है और मुंबई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मामले की तहकीकात कर रहे हैं। राज्य सरकार के वकील ने कहा कि जांच बेहद ही प्राथमिक स्थिति में है फिलहाल मुंबई पुलिस ने कोई FIR दर्ज नहीं की है।

जांच के लिए 4 सदस्यीय टीम का गठन
महाराष्ट्र के मंत्री और NCP नेता नवाब मलिक (nawab malik) ने वानखेड़े पर कई आरोप लगाए हैं, जिनमें बड़ी हस्तियों से उगाही का आरोप भी शामिल है। भ्रष्टाचार से जुड़े 4 मामलों में मुंबई पुलिस ने वानखेड़े के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। इसके बाद से यह आशंका थी कि वानखेड़े को मुंबई पुलिस गिरफ्तार कर सकती है। मुंबई पुलिस ने वानखेड़े पर लगे आरोपों की जांच के लिए 4 सदस्यों वाली एक टीम का भी गठन कर दिया है जो, सारे मामलों की जांच करेगी। 

वानखेड़े पर उगाही के आरोप
समीर वानखेड़े आर्यन खान ड्रग्स मामले की जांच कर रहे थे, लेकिन इसके बाद उन पर लगातार आरोप लगते गए। पहले महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक ने दावा किया कि समीर वानखेड़े बॉलीवुड से करोड़ों की उगाही करने का काम करते हैं, इसके बाद मुंबई ड्रग्स मामले से जुड़े गवाह ने भी ऐसे ही आरोप लगाए और कहा कि शाहरुख खान से उनके बेटे को छोड़ने के लिए करोड़ों की डील चल रही थी। इन आरोपों के बाद NCB ने वानखेड़े के खिलाफ आंतरिक जांच शुरू की। 

समीर की पत्नी ने मुख्यमंत्री से मांगा समर्थन
बता दें कि, आर्यन खान ड्रग्स केस में जांच कर रहे समीर वानखेड़े पर लेनदेन के आरोपों के साथ फर्जी सर्टिफिकेट के जरिए नौकरी पाने और धर्म परिवर्तन जैसे आरोप लग रहे हैं। इस मामले पर अब समीर की पत्नी क्रांति रेडकर ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को पत्र लिखा है। उन्होंने लिखा है कि मैं बचपन से ही मराठी लोगों के न्याय और हक की लड़ाई लड़ते हुए शिवसेना को देखते हुए बड़ी हुई हूं। छत्रपति शिवाजी महाराज और बाला साहब ठाकरे को आदर्श मानते हुए मैं बड़ी हुई हूं। राज्य में एक महिला की गरिमा के साथ खेल किया जा रहा है,आज अगर बाला साहब होते तो उन्हें निश्चित रूप से यह पसंद नहीं आया होता। 

इसे भी पढ़ें-क्रूज से लेकर कोर्ट तक..ये रही आर्यन ड्रग केस की पूरी टाइमलाइन, शाहरुख ने बेटे के लिए उतारी वकीलों की फौज

इसे भी पढ़ें-Aryan khan Bail: 25 दिन, 7 वकील और दलील पर दलील, जानिए आखिरकार मुकुल रोहतगी ने कैसे दिलाई आर्यन को बेल..

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios