Asianet News Hindi

अखबार में नौकरी, बालासाहब के भांजे से प्रेम विवाह; कुछ ऐसी हैं शरद पवार की इकलौती बेटी

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में विपक्ष का सारा दारोमदार और संभावनाएं 78 साल के शरद पवार के कंधों पर हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी चीफ शरद पवार जबरदस्त तरीके से चुनाव अभियान में जुटे। इस चुनाव में शरद के भतीजे अजित पवार और एक पोता रोहित पवार भी उम्मीदवार रहे।

maharshtra election result sharad pawar daughter supriya sule life age political career full profile
Author
Mumbai, First Published Oct 24, 2019, 8:53 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पुणे/मुंबई. महाराष्ट्र में भाजपा मुख्यमंत्री देंवेंद्र फडणवीस के चेहरे पर चुनाव लड़ रही है। कांग्रेस अभी तक मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार का ऐलान नहीं किया। 2014 विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिवसेना ने अलग अलग चुनाव लड़ा था। चुनाव के बाद दोनों पार्टियों ने गठबंधन की सरकार बनाई। पिछले चुनाव में कांग्रेस और एनसीपी ने भी अलग-अलग चुनाव लड़ा था। साल 2014 में भाजपा को 122 (28.1%), शिवसेना 63 (19.5%), कांग्रेस 42 (18.1%), एनसीपी 41 (17.4),आईएनडी 7 (4.8%) और अन्य को 13 (12.1) सीट मिले थे।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में विपक्ष का सारा दारोमदार और संभावनाएं 78 साल के शरद पवार के कंधों पर हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी चीफ शरद पवार जबरदस्त तरीके से चुनाव अभियान में जुटे। इस चुनाव में शरद के भतीजे अजित पवार और एक पोता रोहित पवार भी उम्मीदवार रहे। इन चुनावों में शरद पवार ने करीब 60 रैलियों को संबोधित किया और काफी चर्चा में रहे। उन्होंने कहा कि अभी वह जवान है और पार्टी को चिंता की जरूरत नहीं। पवार की बेटी सुले भी काफी चर्चा में रही हैं। आइए जानते हैं सुले से जुड़ी सारी जानकारी- 

सुप्रिया सुले की जन्मतिथि -

शरद पवार की इकलौती बेटी भी पार्टी की राजनीति में सक्रिय हैं और राज्य की टॉप महिला लीडर्स में शुमार की जाती हैं। बेटी सप्रिया सुले महाराष्ट्र की महिला नेताओं में शीर्ष हैं। सुप्रिया का जन्म 30 जून 1969 को हुआ। 50 वर्षीय सुले राजनीति में एक कद्दावार नेता हैं। उन्होंने पिता शरद पवार से अलग हटकर अपनी पहचान बनाई है।

शादी के बाद शरद पवार ने लिया था ये वादा

शरद पवार और प्रतिभाताई ने शादी के बाद एक बच्चे का प्रण लिया था। सुप्रिया माइक्रोबायोलाजी से साइंस ग्रेजुएट हैं। पिता महाराष्ट्र की दिग्गज राजनीतिक हस्ती थे, इसके बावजूद सुप्रिया ने कॉलेज खत्म करने के बाद नौकरी की। उन्होंने पुणे के एक अखबार में नौकरी से अपने करियर की शुरुआत की।

प्रेम, फिर शादी

एक फैमिली फ्रेंड के जरिए साथ सुप्रिया की पहचान पति सदानंद सुले से हुई थी। पहली मुलाकात के बाद सदानंद और सुप्रिया में प्यार ओ गया। कहते हैं कि तत्कालीन प्रधानमंत्री चंद्रशेखर और शिवसेना प्रमुख बालासाहब ठाकरे की पहल से दोनों की शादी हुई। इस फैसले से पवार फैमिली काफी खुश थी।

शादी के वक्त सदानंद अमेरिका में नौकरी किया कराते थे। शादी के बाद सुप्रिया भी अमेरिका चली गई थीं। कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक सुप्रिया ने यहां आगे की पढ़ाई भी की। कुछ साल अमेरिका में बिताने के बाद सदानंद और सुप्रिया महाराष्ट्र वापस लौट आए। सुप्रिया और सदानंद के दो बच्चे हैं। विजय और रेवती। दोनों बच्चे अभी मुंबई में पढ़ाई कर रहे हैं।

सुप्रिया ने ऐसे मारी राजनीति में एंट्री

वापस आने के बाद सुप्रिया महाराष्ट्र की राजनीति में सक्रिय हो गईं। 2009 में सुप्रिया ने पवार के गढ़ बारामती लोकसभा क्षेत्र से लोकसभा का चुनाव लड़ा और सांसद बनीं। सुप्रिया ने राष्ट्रवादी युवती कांग्रेस के रूप में महाराष्ट्र में पार्टी का एक मजबूत महिला संगठन खड़ा किया।

सुप्रिया को माना जा रहा है पवार का उत्तराधिकारी

सुप्रिया को शरद पवार का उत्तराधिकारी माना जा रहा है। हालांकि दाबी जुबान यह भी चर्चा है कि अजित पवार सुप्रिया के राजनीति में आने से बहुत खुश नहीं हैं। वैसे अजित कई बार अपनी नाखुशी जाहीर कर दे रहे हैं। भविष्य में ये देखना दिलचस्प होगा कि पवार के बाद एनसीपी की कमान किसके हाथ में जाती है। 

महाराष्ट्र में 288 विधानसभा सीटों के लिए सोमवार को 61.27% मतदान हुआ। पिछले बार 2014 में 63.3% मदतान हुआ था। चुनाव में कुल 3237 उम्मीदवार हैं। महाराष्ट्र में एक तरफ भाजपा-शिवसेना गठबंधन है तो दूसरी तरफ कांग्रेस-एनसीपी है। खास बात यह है कि पहली बार ठाकरे परिवार से शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे वर्ली सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।\

(हाई प्रोफाइल सीटों पर हार-जीत, नेताओं का बैकग्राउंड, नतीजों का एनालिसिस और चुनाव से जुड़ी हर अपडेट के लिए यहां क्लिक करें)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios