Asianet News HindiAsianet News Hindi

Omicron से हो जाइए अलर्ट, क्योंकि विदेश से महाराष्ट्र लौटे 100 से ज्यादा यात्री हुए लापता, फोन भी बंद किए

विदेश से ठाणे जिले में आए 295 विदेशी यात्रियों में से 109 यात्रियों का कुछ भी पता नहीं है। इन लोगों में से कुछ का मोबाइल फोन बंद जा रहा है। इतना ही नहीं, विदेश से आए जिन यात्रियों ने अपना पता दिया था, वहां अब ताला लगा है। उन्होंने बताया कि खतरे वाले देशों से यात्रा करके आने वाले लोगों को 7 दिन तक होम क्वारैंटाइन रहना जरूरी है। 

Omicron Maharashtra Mumbai Amidst threat more than 100 people back from abroad went missing switched off their phones UDT
Author
Maharashtra, First Published Dec 7, 2021, 10:15 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। कोरोनावायरस (coronavirus) के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) की दस्तक ने देशभर की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। सोमवार को मुंबई (Mumbai) में दो और लोग ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित पाए गए, जिसके बाद इस वेरिएंट से संक्रमित लोगों की संख्या 24 हो गई है। ओमिक्रॉन के खतरे के बीच एक टेंशन ने सबको परेशान कर दिया है। पिछले कुछ दिनों में विदेश से महाराष्ट्र (Maharashtra) आए करीब 100 यात्री गायब हो गए हैं। प्रशासन अब इन लोगों की जानकारी ट्रेस कर रहा है। इनके फोन भी बंद आ रहे हैं।

कल्याण डोम्बिवली म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन (KDMC) के प्रमुख विजय सूर्यवंशी ने बताया कि विदेश से ठाणे जिले में आए 295 विदेशी यात्रियों में से 109 यात्रियों का कुछ भी पता नहीं है। इन लोगों में से कुछ का मोबाइल फोन बंद जा रहा है। इतना ही नहीं, विदेश से आए जिन यात्रियों ने अपना पता दिया था, वहां अब ताला लगा है। उन्होंने बताया कि खतरे वाले देशों से यात्रा करके आने वाले लोगों को 7 दिन तक होम क्वारैंटाइन रहना जरूरी है। 8वें दिन उनका कोविड-19 टेस्ट किया जाता है। अगर यह रिपोर्ट निगेटिव आती है तो भी इन्हें 7 दिनों के होम क्वारैंटाइन में रहना होता है। हाउसिंग सोसायटी सदस्यों की जिम्मेदारी है कि कोरोना से जुड़े इन नियमों का उल्लंघन ना हो, इसके लिए वे अलर्ट रहें। 

महाराष्ट्र सरकार ने बनाया है नियम
बता दें कि ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने एट रिस्क वाले देशों से यात्रा करके भारत आने वाले लोगों को सात दिन के होम क्वारैंटाइन में रहने का नियम बनाया है। ऐसे लोगों का सात दिन के बाद फिर से कोरोना टेस्ट होता है।

महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन से संक्रमितों की संख्या 10 हुई
सोमवार को मुंबई में दो लोगों में ओमिक्रोन वेरिएंट की पुष्टि हुई। दोनों ही 25 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से लौटे थे और उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद ओमिक्रोन है या नहीं, इसकी जांच के लिए सैंपल को पुणे के NIV में जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा गया था। अब उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसी के साथ महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन से संक्रमितों की संख्या 10 हो गई है। देशभर में अब तक 24 लोगों में ओमिक्रॉन वेरिएंट की पुष्टि हुई है।

4,480 यात्री विदेश से मुंबई लौटे
देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट से खतरा बढ़ गया है। बीएमसी की तरफ से जानकारी दी गई है कि 1 नवंबर से अंतरराष्ट्रीय यात्रियों का कोविड-19 टेस्ट किया जा रहा है। इनमें से 16 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से 12 पुरुष और अन्य 4 महिलाएं हैं। यह भी जानकारी दी गई है कि 5 दिसंबर तक 4,480 यात्री खतरे वाले देशों से यात्रा कर मुंबई लौटे हैं। इससे पहले पुणे जिले के पिंपरी चिंचवाड में 6 लोग ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित मिले। इनमें से 3 नाइजीरियाई नागरिक हैं। 

इन राज्यों में ओमिक्रॉन से संक्रमित मिले
महाराष्ट्र के अलावा तीन और राज्य भी हैं जहां ओमिक्रॉन के केस मिले हैं। इनमें राजस्थान में 9, कर्नाटक में 2 और गुजरात में 2 संक्रमित की पहचान हुई है। इसके अलावा दिल्ली में भी एक संक्रमित की पहचान की गई है। कर्नाटक का एक मरीज दक्षिण अफ्रीका लौट गया है। बता दें कि ओमिक्रॉन वैरिएंट की सबसे पहले पहचान साउथ अफ्रीका में की गई थी। वैज्ञानिकों ने माना है कि यह वैरिएंट अब तक मिले सभी वैरिएंट से ज्यादा तेजी से फैलने में सक्षम है।

Omicron: महाराष्ट्र में दो नए केस, साउथ अफ्रीका और अमेरिका से लौटे लोगों में मिला नया वैरिएंट, देश में 24 केस

Omicron: बिहार में फ्लाइट से सफर करने वालों के लिए नई गाइडलाइन, विमान में बैठने से पहले जरूर पढ़ लीजिए

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios