Asianet News HindiAsianet News Hindi

होटल व्यवसायी ने घर में घुसकर महिला से की थी छेड़छाड़, Pune Court ने तीन दिन में दी सजा

महाराष्ट्र के पुणे जिले के पिंपरी चिंचवड़ में न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत ने हिंजेवाड़ी थाने में छेड़छाड़ का मामला दर्ज करने के तीन दिन के भीतर एक आरोपी को छह महीने कैद की सजा सुनाई है।

Pune court convicts accused in molestation case within three days of registering complaint
Author
Pune, First Published Jan 30, 2022, 6:09 AM IST

पुणे। महाराष्ट्र के पुणे जिले के पिंपरी चिंचवड़ में न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत ने हिंजेवाड़ी थाने में छेड़छाड़ का मामला दर्ज करने के तीन दिन के भीतर एक आरोपी को छह महीने कैद की सजा सुनाई है। न्यायाधीश श्रद्धा डोलारे ने 31 वर्षीय दोषी समीर श्रीरंग जाधव पर 9 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। उन्होंने आदेश दिया कि जुर्माना नहीं देने पर आरोपी को एक महीने और जेल में रहना होगा।

घर में घुसकर की थी छेड़छाड़
पुलिस उपायुक्त आनंद भोइटे द्वारा जारी एक आधिकारिक बयान के अनुसार, 25 जनवरी को मामला दर्ज किया गया था। एक महिला ने हिंजवाड़ी पुलिस स्टेशन में एक शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि एक होटल व्यवसायी ने उसके आवास में प्रवेश किया और उसे जान से मारने की धमकी देकर उसके साथ छेड़छाड़ की।

शिकायत मिलने के बाद तुरंत एक महिला अधिकारी को मामले की जांच शुरू करने का जिम्मा सौंपा गया। भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 354, 452, 506 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। आरोपी के खिलाफ पर्याप्त सबूत इकट्ठा करने के बाद उसे 27 जनवरी को सुबह 9:30 बजे गिरफ्तार किया गया और चार्जशीट के साथ अदालत में पेश किया गया।

36 घंटे में पूरी हुई अदालती कार्यवाही 
पुलिस की जांच 36 घंटे के भीतर पूरी हुई, जबकि अदालती कार्यवाही भी 36 घंटे (अदालत के काम के घंटे) में पूरी हुई। अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने और सबूत देखने के बाद आरोपी को दोषी करार दिया। सहायक लोक अभियोजक विजय सिंह जाधव ने मामले की पैरवी की। बता दें कि बिहार के अररिया जिले का एक ऐसा ही मामला प्रकाश में आया था। 

अररिया जिले में एक विशेष पोक्सो अदालत ने छह साल की बच्ची से बलात्कार के मामले में एक व्यक्ति को चार दिनों के स्पीडी ट्रायल में फांसी की सजा सुनाई। 1 दिसंबर 2021 को दोषी ने बच्ची के साथ बलात्कार किया था। परिजनों ने 2 दिसंबर को केस दर्ज कराया था। 12 जनवरी 2022 को कोर्ट में आरोप पत्र दिया गया। कोर्ट ने घटना के 56 दिन में फैसला सुना दिया।

 

ये भी पढ़ें

भयावह मंजर: आग लगा ट्रक को 4 किलोमीटर तक दौड़ाता रहा, देखने वाले भी सहम गए, लेकिन ड्राइवर को पता भी नहीं

महाराष्ट्र के नंदुरबार स्टेशन पर गांधीधाम-पुरी एक्सप्रेस ट्रेन में लगी भीषण आग, मची चीख-पुकार, देखिए Video

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios