Asianet News HindiAsianet News Hindi

जनता कर्फ्यू के दिन 2400 पैसेंजर ट्रेनें नहीं चलेंगी, दिल्ली, नोएडा और जयपुर में मेट्रो बंद

पीएम मोदी की अपील के बाद 22 मार्च को पूरे देश में जनता कर्फ्यू रहेगा। इसके चलते शनिवार की रात 12 बजे से रविवार की रात 10 बजे तक कोई भी पैसेंजर ट्रेन नहीं चलेगी। इतना ही नहीं, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें भी सुबह 4 बजे से रोक दी जाएंगी।

2400 passenger trains and Delhi Metro will remain closed on Janata curfew kpn
Author
New Delhi, First Published Mar 21, 2020, 5:40 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. पीएम मोदी की अपील के बाद 22 मार्च को पूरे देश में जनता कर्फ्यू रहेगा। इसके चलते शनिवार की रात 12 बजे से रविवार की रात 10 बजे तक कोई भी पैसेंजर ट्रेन नहीं चलेगी। इतना ही नहीं, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें भी सुबह 4 बजे से रोक दी जाएंगी। रेल अधिकारियों की माने तो 2400 पैसेंजर ट्रेन नहीं चलेंगी। बता दें कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की थी।  

जनता कर्फ्यू का बसों का क्या असर पड़ेगा

जनता कर्फ्यू के दिन दिल्ली में मेट्रो सेवाएं बंद रहेंगी। वहीं हरियाणा में बस सर्विस बंद रहेगी। 

गुजरात और तमिलनाडु में क्या-क्या किया जाएगा?

गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने जनता कर्फ्यू के समर्थन में 22 मार्च को पूरी तरह से लॉकडाउन करने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान गुजरात में बस सेवाएं बंद रहेंगी या फिर बेहद कम संख्या में चलेंगी। गुजरात चैंबर ऑफ कॉमर्स ने भी जनता कर्फ्यू को अपना समर्थन देने का ऐलान किया है। तमिलनाडु के सीएम ईपलानीस्वामी ने ऐलान किया है कि 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के दिन राज्य में सभी सरकारी बसें बंद रहेंगी। चेन्नई मेट्रो रेल लिमिटेड की सेवाएं भी रविवार को बंद रहेंगी।
 

ताली और थाली बजाकर एकजुटता दिखाएं

पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की थी, 22 मार्च की सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू लगाएं। यह जनता के लिए, जनता द्वारा खुद पर कर्फ्यू होगा। इन 14 घंटों के दौरान कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकलेगी। वहीं शाम 5 बजे अपने घर की खिड़की पर आकर ताली, थाली या घंटी बजाकर एकजुटता दिखाएगा। 

भारत में कोरोना के 283 मामले सामने आए

भारत में कोरोना वायरस के 283 मामले सामने आ चुके हैं। शुक्रवार को ही सिर्फ 40 मामले सामने आए। संक्रमित मरीज हिमाचल प्रदेश, गुजरात, तेलंगाना, ओडिशा और मध्यप्रदेश से सामने आए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों की तैयारियों के बारे में जानकारी लेने के लिए मुख्यमंत्रियों से बात की।

भ्रम में ना रहें मुख्यमंत्री- पीएम

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों को संबोधित किया। उन्होंने कहा, वे इस भ्रम में ना रहें कि बढ़ते तापमान से कोरोना का असर कम हो जाएगा। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने बताया, आज से देश के अलग-अलग हिस्सों में 111 लैब काम कर रही हैं।

- स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने कहा, करीब 1600 भारतीयों और दूसरे देशों के नागरिकों को मिलाकर करीब 1700लोगों को हम अपने क्वारंटाइन सेंटर में सेवाएं दे चुके हैं। आज रोम से 262यात्री निकलेंगे और देश में वापस आएंगे। उनमें से ज्यादातर छात्र हैं, हम उनको अपने क्वारंटाइन सेंटर में रखेंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios