नई दिल्ली. कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन लगाया गया था। ऐसे में तमाम लोग दूसरे राज्यों या शहरों में फंस गए हैं। अब इन लोगों को राहत देने के लिए ट्रेन सेवा के बाद सरकार ने सोमवार से उड़ान सेवा शुरू की। घरेलू उड़ान शुरू होने के बाद एक 5 साल का बच्चा अकेले सफर कर बेंगलुरु पहुंचा और 3 महीने बाद अपनी मां से मिला।

विहान शर्मा पिछले तीन महीने से दिल्ली में था और घर नहीं पहुंच पाया था। अब जब दिल्ली से बेंगलुरु के लिए फ्लाइट संचालित हुई तो यह बच्चा अकेले सफर कर अपने घर लौटा। 

रिसीव करने पहुंची मां
विहान को कर्नाटक पर उसकी मां रिसीव करने पहुंचीं। उन्होंने बताया कि उनका बेटा 5 साल का है और अकेले सफर कर बेंगलुरु पहुंचा। वह दिल्ली में अपने दादा दादी के पास गया था और वहीं फंस गया।

हालांकि, इतने छोटे बच्चे का विमान में अकेले सफर करना संभव नहीं है। लेकिन विहान को विशेष छूट मिली थी ताकि वह अपने घर लौट सके। फ्लाइट अटेंडेंट ने बच्चे को उनकी मां तक सुरक्षित पहुंचाया।

कर्नाटक में उतरीं दो फ्लाइटें
सोमवार को पूरे देश में घरेलू उड़ान सेवा शुरू की गई है। इसके तहत दोपहर तक 2 फ्लाइटें बेंगलुरु पहुंचीं। इनमें से एक दिल्ली से आई थी, जिसमें विहान थे।