Asianet News Hindi

LAC पर तनाव कम करने के लिए भारत-चीन में 9वें दौर की बातचीत 15 घंटे चली, नो मैन्स लैंड बनाने पर वार्ता

एलएसी पर तनाव के बीच लद्दाख के मोल्डो में रविवार को भारत और चीन के बीच 9वें दौर की बातचीत करीब 15 घंटे चली। देर रात ढाई बजे मीटिंग खत्म हुई। बैठक में तनाव कम करने को लेकर बातचीत हुई। दोनों देशों में 8 बार बातचीत हो चुकी है लेकिन लद्दाख में गतिरोध का समाधान नहीं निकला। 
 

9th round of India China talks to reduce tension on LAC for 15 hours kpn
Author
New Delhi, First Published Jan 25, 2021, 8:28 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. एलएसी पर तनाव के बीच लद्दाख के मोल्डो में रविवार को भारत और चीन के बीच 9वें दौर की बातचीत करीब 15 घंटे चली। देर रात ढाई बजे मीटिंग खत्म हुई। बैठक में तनाव कम करने को लेकर बातचीत हुई। दोनों देशों में 8 बार बातचीत हो चुकी है लेकिन लद्दाख में गतिरोध का समाधान नहीं निकला। 

रविवार को सुबह 10 बजे शुरू हुई थी मीटिंग
बैठक रविवार को सुबह 10 बजे शुरू हुई और सोमवार को 2.30 बजे तक चली। यह बैठक पूर्वी लद्दाख क्षेत्र के चुशुल के सामने मोल्डो में हुई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 9वें राउंड में प्रस्ताव रखा गया कि पैंगोंग झील के उत्तरी इलाकों में फिंगर एरिया का फिलहाल नो मैंन्स लैंड बनाया जाए। लद्दाख की घाटियों में तापमान शून्य से 30 डिग्री चला गया है, लेकिन दोनों ओर से सेनाओं में कोई कटौती नहीं हुई है। 

मीटिंग से पहले आरके भदौरिया की दो टूक
मीटिंग से पहले इंडियन एयरफोर्स चीफ आरकेएस भदौरिया ने शनिवार को चीन का नाम लिए बिना कहा था कि यदि वे आक्रामण हो सकते हैं तो हम भी आक्रामक हो सकते हैं। उन्होंने ये बयान एलएसी पर आक्रामक होने की संभावना पर दिया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios