Asianet News HindiAsianet News Hindi

अंकिता भंडारी हत्याकांड: SIT ने 3 मुख्य आरोपियों को रिमांड में लिया, VIP कस्टमर के बारे में होगी पूछताछ

एसआईटी ने अंकिता भंडारी हत्याकांड (Ankita Bhandari Murder Case) के तीनों मुख्य आरोपियों को पूछताछ के लिए रिमांड में लिया है। उनसे उस वीआईपी गेस्ट के बारे में पूछताछ होगी, जिसे स्पेशल सर्विस देने का दबाव अंकिता पर डाला गया था।
 

Ankita Bhandari Murder 3 key accused remanded in SIT custody vva
Author
First Published Oct 1, 2022, 3:11 PM IST

देहरादून। अंकिता भंडारी हत्याकांड (Ankita Bhandari Murder Case) की जांच कर रही एसआईटी (विशेष जांच दल) ने तीन मुख्य आरोपियों को पुलिस रिमांड पर लिया है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। तीनों आरोपियों से जांच अधिकारी उस वीआईपी गेस्ट के बारे में पूछताछ करेंगे, जिसे स्पेशल सर्विस देने का दबाव अंकिता पर डाला गया था और इनकार करने पर उसकी हत्या कर दी गई। पुलिस ने आरोपी पुलकित आर्य और उसके दो साथियों सौरभ भास्कर व अंकित गुप्ता को रिमांड पर लिया है। 

वीआईपी गेस्ट की नहीं हुई पहचान
अंकिता पुलकित आर्य के रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के रूप में काम करती थी। वहीं,  सौरभ भास्कर रिसॉर्ट का मैनेजर और अंकित गुप्ता सहायक मैनेजर है। पुलिस ने तीनों को 23 सितंबर को अंकिता की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया था। अंकिता की हत्या एक वीआईपी ग्राहक को एक्स्ट्रा सर्विस देने से इनकार के चलते हुई थी। उस वीआईपी गेस्ट की अभी तक पहचान नहीं हुई है।

सब इंस्पेक्टर से भी हुई पूछताछ
पुलिस अधिकारी के अनुसार तीनों को क्राइम सीन पर ले जाया जा सकता है। एसआईटी राजस्व पुलिस में सब इंस्पेक्टर वैभव प्रताप सिंह से भी पूछताछ कर रही है। अंकिता के लापता होने पर परिजन उनके पास केस दर्ज कराने के लिए आए थे, लेकिन वैभव ने केस दर्ज करने से इनकार कर दिया था। ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में उन्हें निलंबित किया गया है। जांच टीम ने अंकिता भंडारी के दोस्त का बयान रिकॉर्ड किया है, जिससे उसने चैट किया था। 

यह भी पढ़ें- Grand Omaxe: श्रीकांत त्यागी वाली सोसायटी में फिर चला बुलडोजर, रोते-बिलखते रहे लोग पर प्रशासन ने एक न सुनी

नहर से मोबाइल फोन बरामद
एसआईटी ने मामले की जांच में तेजी लाने के लिए पांच टीमों का गठन किया है। पुलिस ने चिल्ला नहर से एक मोबाइल फोन बरामद किया है। यह अंकिता का हो सकता है। इसी नहर में अंकिता को फेंका गया था। अधिकारी ने कहा कि फोन को फोरेंसिक टीम को सौंप दिया गया है।

यह भी पढ़ें- PFI पर बैन के बाद वडोदरा के एक मदरसे में रची जा रही थी कोई बड़ी साजिश, गुजरात ATS ने किया सील

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios