Asianet News HindiAsianet News Hindi

Ankita Bhandari Murder: अंकिता के पिता को मारने खड़ा हो गया था पुलकित, अब बेटी के हत्यारों के लिए मांगी फांसी

उत्तराखंड में पूर्व मंत्री के बेटे के रिसॉर्ट में हुई रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या के बाद लोगों में काफी गुस्सा है। अंकिता की हत्या के मामले में पिता वीरेंद्र भंडारी ने कई बड़े खुलासे किए हैं। यहां तक कि अंकिता के पिता ने ये भी बताया कि उनकी बेटी का हत्यारा पुलकित उन्हें भी मारने के लिए खड़ा हो गया था। 

Ankita Bhandari Murder Case, Pulkit Arya stood up to kill Ankita father kpg
Author
First Published Sep 25, 2022, 7:54 PM IST

Ankita Bhandari Murder Case: उत्तराखंड में पूर्व मंत्री के बेटे के रिसॉर्ट में हुई रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या के बाद लोगों में काफी गुस्सा है। इसी बीच, रविवार को पुलिस और प्रशासन की समझाइश के बाद अंकिता के घरवालों ने बेटी का अंतिम संस्कार कर दिया। अंकिता की हत्या के मामले में पिता वीरेंद्र भंडारी ने कई बड़े खुलासे किए हैं। यहां तक कि अंकिता के पिता ने ये भी बताया कि उनकी बेटी का हत्यारा पुलकित उन्हें भी मारने के लिए खड़ा हो गया था। 

मुझे मारने खड़ा हो गया था पुलकित :
एक इंटरव्यू में अंकिता भंडारी के पिता वीरेंद्र भंडारी ने बताया कि मेरी बेटी 18 सितंबर की रात से लापता थी। मैंने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई। बाद में जब मैं 19 तारीख को पटवारी के पास पहुंचा तो पुलकित आर्य वहां पहले से मौजूद था। इस दौरान उससे मेरी बहस हो गई तो वो मुझे मारने के लिए खड़ा हो गया। अंकिता के पिता वीरेंद्र भंडारी ने कहा- मैं चाहता हूं कि आरोपियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस चले और उन्हें जल्द से जल्द फांसी हो। 

हत्यारे पुलकित के पिता ने कही ये बात : 
दूसरी ओर, अंकिता के हत्यारे पुलकित आर्य के पिता विनोद का कहना है कि मेरा बेटा लंबे समय से हमसे अलग रह रहा था। मुझ पर पद के दुरुपयोग का आरोप ना लगे इसलिए इस्तीफा दे दिया है। मैं चाहता हूं कि अंकिता के साथ इंसाफ हो। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि मेरा बेटा अपने काम से काम रखता है। 

अंकिता मर्डर केस: क्या सबूत मिटाने रिसॉर्ट पर चलाया बुलडोजर? अब तक नहीं मिले इन 3 सवालों के जवाब

अंकिता मर्डर केस में अब तक 3 गिरफ्तार : 
अंकिता के मर्डर का मास्टरमाइंड उत्तराखंड के पूर्व मंत्री विनोद आर्य का बेटा पुलकित आर्य है। 19 साल की अंकिता उसके रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट का काम करती थी। वह 17 सितंबर की रात 8 बजे पुलकित आर्य, उसके रिसॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर और अंकित के साथ ऋषिकेश गई थी। हालांकि, ये तीनों तो लौट आए लेकिन अंकिता नहीं आई। पुलिस ने तीनों पर हत्या की धाराएं लगाते हुए इन्हें गिरफ्तार कर लिया है। कोर्ट ने तीनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। 

Ankita Murder Case: ऋषिकेश जाते समय अंकिता समेत 4 लोग थे, लेकिन वहां से रिसॉर्ट सिर्फ तीन ही लौटे

क्या है पूरा मामला?
अंकिता भंडारी पौड़ी गढ़वाल जिले के यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के एक प्राइवेट रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट की नौकरी करती थी। 18 सितंबर की रात से अंकिता गायब थी। घरवालों की शिकायत के बाद चौकस हुई पुलिस और SDRF को काफी कोशिश के बाद 24 सितंबर की सुबह अंकिता की डेडबॉडी चिल्ला पावर हाउस के पास मिली। पूछताछ में पता चला कि अंकिता 17 सितंबर की रात करीब 8 बजे पुलकित आर्य, उसके रिसॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर और अंकित के साथ ऋषिकेश गई थी। लौटते वक्त तीनों आरोपियों ने चीला रोड के किनारे शराब पी। इस दौरान अंकिता ने रिसॉर्ट में अनैतिक गतिविधियों का विरोध किया। इसी बात से नाराज पुलकित और उसके साथियों ने अंकिता को नहर में धकेल दिया।

ये भी देखें : 
Ankita Murder Case: अलकनंदा घाट पर हुआ अंकिता का अंतिम संस्कार, इस शर्त पर माने परिवारवाले

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios