Asianet News HindiAsianet News Hindi

Azadi ka Amrit Mahotsav:इन्वेस्टर्स को आजादी, नेशनल सिंगल विंडो से 19 डिपार्टमेंट्स का अप्रूवल एक क्लिक पर

केंद्रीय मंत्री गोयल ने कहा कि आज भारत पर दुनिया का ध्यान है और पूरी दुनिया भारत को एक आर्थिक महाशक्ति के रूप में अपनी सही जगह का दावा करने के लिए देख रही है। जीडीपी Q1FY22 में 20% से अधिक की वृद्धि हुई है, अगस्त में निर्यात में 45.17% की वृद्धि हुई है। 

Azadi ka Amrit Mahotsav: Commerce and Industry ministry started Nation single window system for ease of doing bussiness
Author
New Delhi, First Published Sep 22, 2021, 6:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। आत्मनिर्भर भारत (Aatma Nirbhar Bharat) की दिशा में वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय (Commerce and industry Ministry) ने नई शुरूआत की है। आजादी के अमृत महोत्सव (Azadi Ka Amrit Mahotsav) अंतर्गत मनाए जा रहे साप्ताहिक कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने बुधवार को नेशनल सिंगल विंडो सिस्टम का शुभारंभ किया। अब बिजनेस करने के लिए अलग-अलग ऑफिस का चक्कर लगाने की बजाय सिंगल विंडो पर सारा समाधान मिलेगा।

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि इस शुरूआत से ईज ऑफ डूइंड बिजनेस और ईज ऑफ लिविंग को बढ़ावा मिलेगा। गोयल ने कहा कि यह सिंगल विंडो पोर्टल निवेशकों के लिए वन-स्टॉप-शॉप बन जाएगा। पोर्टल आज के रूप में 18 केंद्रीय विभागों और 9 राज्यों में अनुमोदन का जरिया होगा। जल्द ही अन्य 14 केंद्रीय विभाग और 5 राज्यों को दिसंबर '21 तक जोड़ा जाएगा।

गोयल ने कहा कि 'एंड टू एंड' सुविधा के माध्यम से माउस के एक क्लिक पर सभी के लिए सभी समाधान उपलब्ध होंगे। इससे इकोसिस्टम में पारदर्शिता, जवाबदेही आएगी और सभी सूचनाएं एक ही डैशबोर्ड पर उपलब्ध होंगी। आवेदन करने, ट्रैक करने और प्रश्नों का उत्तर देने के लिए एक आवेदक डैशबोर्ड होगा। सेवाओं में नो योर अप्रूवल (केवाईए), सामान्य पंजीकरण और राज्य पंजीकरण फॉर्म, दस्तावेज़ भंडार और ई-संचार शामिल हैं।

केंद्रीय मंत्री गोयल ने कहा कि आज भारत पर दुनिया का ध्यान है और पूरी दुनिया भारत को एक आर्थिक महाशक्ति के रूप में अपनी सही जगह का दावा करने के लिए देख रही है। जीडीपी Q1FY22 में 20% से अधिक की वृद्धि हुई है, अगस्त में निर्यात में 45.17% की वृद्धि हुई है। अगस्त 2020 में रिकॉर्ड एफडीआई निवेश 81.72 अरब डॉलर हो गया है। भारत जीआईआई पर 46वें स्थान पर पहुंच गया है, पिछले 6 वर्षों में 35 स्थानों की छलांग लगाई है।

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios