Asianet News HindiAsianet News Hindi

पहले राष्ट्रपति के 'लुक' पर की छींटाकशी, फजीहत हुई तो TMC के मंत्री ने बोला सॉरी, कहा- मेरा मतलब यह नहीं था

पश्चिम बंगाल के मंत्री अखिल गिरि ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पर अपनी विवादित टिप्पणी के बाद माफी मांग ली है। उनके बयान की जबर्दस्त आलोचना हो रही थी। टिप्पणियों का वीडियो क्लिप वायरल होने के बाद गिरि ने ऐसी टिप्पणी करने के लिए माफी मांगी।

big controversy Bengal minister faces criticism for making controversial remarks on President, later apologizes kpa
Author
First Published Nov 12, 2022, 12:10 PM IST

नंदीग्राम (पश्चिम बंगाल). पश्चिम बंगाल के मंत्री अखिल गिरि ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पर अपनी विवादित टिप्पणी(Akhil Giri controversial remarks on Droupadi Murmu) के बाद माफी मांग ली है। उनके बयान की जबर्दस्त आलोचना हो रही थी। टिप्पणियों का वीडियो क्लिप वायरल होने के बाद गिरि ने ऐसी टिप्पणी करने के लिए माफी मांगी।17 सेकंड के एक कथित वीडियो क्लिप में गिरि को राष्ट्रपति के रंग-रूप पर टिप्पणी करते सुना गया था। जानिए पूरी डिटेल्स...

यह कहते सुने गए थे मंत्री
वायरल हुए एक विवादित वीडियो में अखिल गिरी ने शुक्रवार देर शाम नंदीग्राम में लोगों को संबोधित करते हुए कहा, "उन्होंने (सुवेंदु अधिकारी) कहा कि मैं अच्छा दिखने वाला नहीं हूं। वह कितने सुंदर हैं? हम किसी को उसके लुक से जज नहीं करते। हम राष्ट्रपति के कार्यालय का सम्मान करते हैं, लेकिन हमारी राष्ट्रपति कैसी दिखती हैं?" pic.twitter.com/UcGKbGqc7p

सुधार गृह राज्य मंत्री(minister of state for Correctional Homes) गिरि ने शनिवार सुबह पत्रकारों से बात करते हुए इस तरह की टिप्पणी के लिए माफी मांगी। उन्होंने कहा, "माननीय राष्ट्रपति का अपमान करने का मेरा मतलब नहीं था। मैं मौखिक रूप से मुझ पर हमला करने वाले भाजपा नेताओं की बातों का जवाब दे रहा था। मैं इस तरह की टिप्पणी करने के लिए माफी मांगता हूं। हमारे देश के राष्ट्रपति के लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है।"

भाजपा ने बताया अपमानजनक
हालांकि, भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि गिरि की टिप्पणी TMC की आदिवासी विरोधी मानसिकता को दर्शाती है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने कहा, "राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आदिवासी समुदाय से आती हैं। अखिल गिरि ने देश की राष्ट्रपति के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की। ये टिप्पणियां टीएमसी पार्टी की आदिवासी विरोधी मानसिकता को दर्शाती हैं।"

बीजेपी की आईटी सेल के नेशनल इनचार्ज और पश्चिम बंगाल के सह प्रभारी अमित मालवीय ने एक ट्वीट में कहा, 'ममता बनर्जी के मंत्रिमंडल में मंत्री अखिल गिरी राष्ट्रपति का अपमान करते हैं। ममता बनर्जी हमेशा आदिवासी विरोधी रही हैं। मुर्मू को राष्ट्रपति पद के लिए समर्थन नहीं दिया और अब यह। भाषण का शर्मनाक स्तर?"

हालांकि टीएमसी ने सफाई देते हुए कहा कि वह इस तरह की टिप्पणी का समर्थन नहीं करती है, लेकिन नेताओं द्वारा व्यक्तिगत रूप से की गई टिप्पणियों की जिम्मेदारी नहीं लेगी। तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा, 'हम लोगों की छिटपुट टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देना नहीं चाहते। पार्टी न तो इस तरह की टिप्पणियों का समर्थन करती है और न ही ऐसी टिप्पणियों की जिम्मेदारी लेती है। हमारे मन में देश के राष्ट्रपति के लिए बहुत सम्मान है।

यह भी पढ़ें
Bharat Jodo Yatra: महाराष्ट्र में 'ठाकरे' के साथ कदमताल करते दिखे राहुल गांधी, देखिए 12 यूनिक तस्वीरें
विशाखापट्टन में बोले PM मोदी-ये प्रोजेक्ट ईज ऑफ लिविंग से लेकर आत्मनिर्भर भारत तक कई आयाम खोलेंगे

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios