Asianet News HindiAsianet News Hindi

Bharat Jodo Yatra के हिंसक कैम्पेन से मचा बवाल, लोगों का फूटा गुस्सा-'या तो देश चलाने दो, नहीं तो जलाने दो'

कांग्रेस की महत्वाकांक्षी 'भारत जोड़ो यात्रा' का कैम्पेन विवादों में फंस गया है। कांग्रेस ने अपनी आफिसियल twitter हैंडल से एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें RSS के यूनफॉर्म यानी खाकी नेकर को आग लगाते दिखाया गया है। यह कैम्पेन तब रिलीज किया गया, जब राहुल गांधी यात्रा के दौरान केरल में हैं। 

Big controversy over Bharat Jodo Yatra campaign, became a symbol of communal violence Anti-RSS campaign of Congress kpa
Author
First Published Sep 12, 2022, 1:39 PM IST

तिरुवनंतपुरम(केरल). कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' ने बिग कंट्रोवर्सी खड़ी कर दी है।  कांग्रेस ने अपनी आफिसियल twitter हैंडल से एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें RSS के यूनफॉर्म यानी खाकी नेकर को आग लगाते दिखाया गया है। कांग्रेस ने tweet किया-देश को नफरत की बेड़ियों से मुक्त करना और भाजपा-आरएसएस द्वारा किए गए नुकसान की भरपाई करना। कदम दर कदम हम अपने लक्ष्य तक पहुंचेंगे। #BharatJodoYatra. 

यह कैम्पेन तब रिलीज किया गया, जब राहुल गांधी यात्रा के दौरान केरल में हैं। राहुल यहीं के वायनाड से सांसद हैं। हालांकि विवाद बढ़ने पर कांग्रेस ने सफाई देते हुए अगला tweet किया-U won’t understand. This means Burn the ideology not ideologues। यानी-इसे यूं नहीं समझिए! इसका मतलब है कि विचारधारा को जलाओ, विचारकों को नहीं। इसे लेकर लोगों की तीखी प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं। भाजपा नेता जितिन प्रसाद ने इसे शेयर करते हुए लिखा-"राजनीतिक मतभेद स्वाभाविक और समझने योग्य हैं, लेकिन राजनीतिक विरोधियों को जलाने के लिए क्या इस तरह की मानसिकता की आवश्यकता है? नकारात्मकता और नफरत की इस राजनीति की सभी को निंदा करनी चाहिए।" बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) ने 'भारत जोड़ो यात्रा' को 'आग लगाओ आंदोलन' बताया है। संबित पात्रा ने सवाल किया कि कांग्रेस को आग से इतना प्यार क्यों है? आरएसएस के सह सरकार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य ने सोमवार को रायपुर में कहा कि वे लोगों को नफरत से जोड़ना चाहते हैं। उनके बाप-दादा ने संघ का तिरस्कार किया और अपनी पूरी ताकत के साथ संघ को रोकने का प्रयास किया, लेकिन संघ रुका नहीं, संघ लगातार बढ़ रहा है।

https://t.co/Lx91MRMkep

कुछ यूजर की प्रतिक्रियाएं-

  1. 'या तो देश चलाने दो, नहीं तो देश जलाने दो'
  2. कांग्रेस ने पहले भी ऐसा किया है और वह इसे फिर से करेगी। मेरे देश को हिंसा से जला दो।
  3. जब तक भारत में हिन्दू हैं, कांग्रेस सत्ता में वापस नहीं आ सकती। यह भारत मां से हिंदू समुदाय का वादा है।

Big controversy over Bharat Jodo Yatra campaign, became a symbol of communal violence Anti-RSS campaign of Congress kpa

केरल पहुंची भारत जोड़ो यात्रा: भारत जोड़ो यात्रा के केरल में पहुंचने पर सड़कों पर हजारों की संख्या में लोग राहुल गांधी को समर्थन देने इकट्ठा हुए। राहुल गांधी ने सोमवार की सुबह यहां वेल्लयानी जंक्शन से पैदल यात्रा शुरू की। उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट में कहा, "हर सुबह मुझे आशा और विश्वास से भर देता है कि एक बेहतर कल भारत और हमारी युवा पीढ़ी का इंतजार कर रहा है। हरेक भारत के लिए, हर कदम भारत के लिए(Everyone for India, Every step for India)।

Big controversy over Bharat Jodo Yatra campaign, became a symbol of communal violence Anti-RSS campaign of Congress kpa

पैदल मार्च में शामिल होने वालों के अलावा गांधी के नेतृत्व में पदयात्रा देखने के लिए सड़क के दोनों ओर बड़ी संख्या में लोग खड़े थे। राहुल गांधी केरल के वायनाड से सांसद भी हैं। AICC के जनरल सेक्रट्री और  कम्युनिकेशन इंचार्ज  जयराम रमेश ने tweet करते हुए कहा कि भारत जोड़ो यात्रा का 5वां दिन हमेशा की तरह तिरुवनंतपुरम के बाहरी इलाके में वेल्लयानी जंक्शन से सुबह 7 बजे के आसपास शुरू हुआ। 

Big controversy over Bharat Jodo Yatra campaign, became a symbol of communal violence Anti-RSS campaign of Congress kpa
जयराम नरेश ने  ट्वीट किया कि वे यात्रा में इतने डूबे हुए हैं, वह 9 सितंबर को वन्य जीवन (संरक्षण) अधिनियम की 50 वीं वर्षगांठ( 50th anniv of the landmark Wild Life(Protection) Act) पर भी ध्यान देने से चूक गए।


यात्रा के दौरान राहुल गांधी के साथ बड़ी संख्या में बच्चों, युवाओं और बुजुर्गों के अलावा कांग्रेस के सीनियर लीडर शशि थरूर, केसी वेणुगोपाल, KPCC(केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी) के अध्यक्ष के सुधाकरन और राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता वीडी सतीसन भी थे।

भारत जोड़ो यात्रा के 1 अक्टूबर को कर्नाटक में प्रवेश करने से पहले केरल में 450 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए 19 दिनों की अवधि में ये 7 जिलों से गुजरेंगी। रविवार को जब दिन की यात्रा नेमोम( Nemom) में समाप्त हुई, तब राहुल गांधी ने कहा था कि केरल सभी का सम्मान करता है और खुद को विभाजित या नफरत फैलाने की इजाजत नहीं देता है। भारत जोड़ो यात्रा एक तरह से इन विचारों का विस्तार है।

यात्रा 150 दिनों की अवधि में 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों को कवर करेगी। यह तमिलनाडु में कन्याकुमारी से जम्मू और कश्मीर तक 3,570 किमी की दूरी तय करेगी। इसमें 22 बड़े शहरों में मेगा रैलियां होंगी।

यह भी पढ़ें
Bharat JodoYatra: करतब देखने जब यात्रा रोककर खड़े हो गए राहुल गांधी, देखिए कुछ ऐसी ही 10 दिलचस्प तस्वीरें
कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा: सामने आया ट्रेन के डिब्बों जैसे कंटेनरों और राहुल गांधी के जूतों का सीक्रेट

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios