Asianet News HindiAsianet News Hindi

फेसबुक विवाद : भाजपा ने कहा- राहुल गांधी एक असफल नेता, स्वाभाविक रूप से उनकी खीझ -बौखलाहट दिख रही

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस रिपोर्ट का जिक्र करते हुए भाजपा और संघ पर फेसबुक और व्हॉट्सएप का इस्तेमाल कर फर्जी खबर फैलाकर मतदाताओं को प्रभावित करने का आरोप लगाया तो दूसरी ओर भाजपा ने कांग्रेस को कैंब्रिज एनालिटिका मुद्दे की याद दिलाने की कोशिश की। आईए जानते हैं कि क्या है ये पूरा मामला ?

BJP congress attack each other over Wall Street Journal Reveals about Facebook KPP
Author
New Delhi, First Published Aug 17, 2020, 7:47 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना और चीन के मुद्दे के बाद अब वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट को लेकर सत्तारूढ़ भाजपा और कांग्रेस में बहस छिड़ गई है। जहां कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस रिपोर्ट का जिक्र करते हुए भाजपा और संघ पर फेसबुक और व्हॉट्सएप का इस्तेमाल कर फर्जी खबर फैलाकर मतदाताओं को प्रभावित करने का आरोप लगाया। तो वहीं, भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, राहुल गांधी एक असफल नेता हैं और स्वाभाविक रूप से कहीं न कहीं उनकी खीझ और बौखलाहट दिख रही है। वे कांग्रेस पार्टी पर अपना नियंत्रण नहीं कर पा रहे हैं, पार्टी उनके नियंत्रण के बाहर है। 

क्या था वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट में?
अमेरिकी अखबार द वॉल स्‍ट्रीट जर्नल ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि फेसबुक ने भाजपा नेताओं के हेट स्पीच वाली पोस्ट के खिलाफ एक्शन लेने में जानबूझकर ढिलाई बरती। यह सब विस्‍तृत योजना के तहत किया गया और फेसबुक ने भाजपा और कट्टरपंथी हिंदुओं को फेवर किया। इतना ही नहीं रिपोर्ट में कहा गया है कि फेसबुक इंडिया की पब्लिक पॉलिसी डायरेक्‍टर अनखी दास ने अपने स्टाफ से कहा था, भाजपा नेताओं की पोस्ट हटाने से कंपनी के भारत में कारोबार में असर पड़ेगा। इस रिपोर्ट में तेलंगाना में भाजपा नेता टी राजा की पोस्ट का भी जिक्र किया गया है। 

क्या कहा फेसबुक ने?
फेसबुक ने इस आरोपों का खंडन किया है। फेसबुक के प्रवक्‍ता एंटी स्‍टोन ने कहा, अनखी दास ने राजनीतिक अस्‍थ‍िरता को लेकर चिंता जाहिर की थी। इतना ही नहीं, उन्होंने बताया कि राजा की पोस्ट को डिलीट ना करने के पीछे कई वजह थीं। उन्होंने बताया, राजा को फेसबुक पर आधिकारिक अकाउंट बनाने की भी अनुमति नहीं है। कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, हेट स्पीच और हिंसा को बढ़ाने वाली पोस्टों को पूरी दुनिया में कंपनी ने प्रतिबंधित कर रखा है। 

उन्होंने कहा, हमारी नीतियां पूरी दुनिया में एक जैसी हैं। हम किसी भी पार्टी की हैसियत देखे बिना घृणा फैलाने वाले भाषण और कंटेंट को बैन करते हैं। हम निष्पक्षता से काम कर रहे हैं। 
 
कांग्रेस ने साधा भाजपा और संघ पर निशाना
राहुल ने ट्वीट में रिपोर्ट को शेयर करते हुए भाजपा और संघ पर निशाना साधा है। राहुल ने कहा, भाजपा और संघ भारत में फेसबुक और व्हाट्सऐप को नियंत्रण में रखते हैं। वे इन माध्यमों से फर्जी खबर फैलाते हैं। इसका इस्तेमाल मतदाताओं को लुभाने में किया जाता है। अमेरिकी मीडिया ने इसका सच सामने ला दिया। 

वहीं,  संसद की सूचना प्रौद्योगिकी की स्थायी समिति के अध्यक्ष सांसद शशि थरूर ने कहा कि समिति इस रिपोर्ट पर फेसबुक का पक्ष जानना चाहेगी। कांग्रेस ने मामले की जांच संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से कराने की मांग की। 

प्रियंका ने भी साधा निशाना

BJP congress attack each other over Wall Street Journal Reveals about Facebook KPP
 

भाजपा ने किया पलटवार
उधर, केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भाजपा की ओर से इस मुद्दे पर मोर्चा संभाला। उन्होंने कांग्रेस को कैंब्रिज एनालिटिका मुद्दे की याद दिलाते हुए घेरा। प्रसाद ने ट्वीट कर कहा, जो हारने वाले लोग अपनी ही पार्टी में लोगों को प्रभावित नहीं कर सकते, वे ऐसा माहौल बनाते रहते हैं कि पूरी दुनिया पर भाजपा और संघ का नियंत्रण है। 

उन्होंने कहा, आप चुनाव से पहले आंकड़ों को हथियार बनाने के लिए कैंब्रिज एनालिटिका और फेसबुक के साथ गठजोड़ करते पकड़े गए थे और हम से सवाल पूछ रहे हो। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios