Asianet News Hindi

टूलकिट पर कांग्रेस का मीडिया डिबेट को लेकर फैसला...बीजेपी बोली-भंड़ाफोड़ हुआ तो बैकफुट पर आई

एक न्यूज चैनल पर टूलकिट मामले में डिबेट कराया जाना था। इसमें प्रमुख राजनीतिक दलों के प्रवक्ताओं विशेषकर कांग्रेस व बीजेपी के अलावा शहजाद पूनावाला को भी आमंत्रित किया गया था।

BJP in attackong mode on Congress toolkit issue, new audio viral of congress decision on media panels DHA
Author
New Delhi, First Published May 21, 2021, 8:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। टूलकिट मामले में कांग्रेस और बीजेपी में जुबानी जंग छिड़ी हुई है। बीजेपी इस मुद्दे पर कांग्रेस को लगातार घेर रही है। कांग्रेस ने अपने प्रवक्ताओं को किसी भी डिबेट जिसमें शहजाद पूनावाला शामिल हो उसमें जाने से रोक दिया है। बीजेपी ने कांग्रेस के इस निर्णय पर कहा है कि यह कांग्रेस की मीडिया को ब्लैकमेलिंग की पुरानी आदत है।

क्यो बीजेपी ने कांग्रेस को बताया ब्लैकमेलर

दरअसल, एक न्यूज चैनल पर टूलकिट मामले में डिबेट कराया जाना था। इसमें प्रमुख राजनीतिक दलों के प्रवक्ताओं विशेषकर कांग्रेस व बीजेपी के अलावा शहजाद पूनावाला को भी आमंत्रित किया गया था। लेकिन एक ऑडियो ट्वीटर पर शेयर किया गया है। इस ऑडियो में बातचीत में यह कहा जा रहा है कि शहजाद पूनावाला की वजह से कांग्रेस ने अपने प्रवक्ताओं को डिबेट में शामिल होने से रोक लगा दी है। 

 

बीजेपी ने फिर लगाया आरोप

कांग्रेस का अपने प्रवक्ताओं को रोके जाने पर बीजेपी ने ट्वीट किया है कि साफ है कि टूलकिट का भंड़ाफोड़ होने के बाद कांग्रेस बैकफुट पर है। ये पहले से ही ऐसे ही ब्लैकमेल करते हैं जब दुनिया के सामने सच आ जाता है। 

क्या है टूलकिट मामला

दरअसल, भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कुछ दस्तावेज पेश कर कांग्रेस पर पीएम मोदी और देश की छवि को खराब करने का आरोप लगाया गया है। पात्रा ने बताया कि टूलकिट के माध्यम से कांग्रेस ने कोरोना काल में कई ऐसे मुद्दों को गलत तरीके से विदेशी मीडिया व अन्य मीडिया पर पेश कराया जिससे छवि खराब हो। इसमें कांग्रेस के रिसर्च टीम से जुड़े कुछ लोग शामिल रहे हैं। सौम्या वर्मा, जोकि 2019 में कांग्रेस की घोषणा पत्र को बनाने वाली टीम में शामिल रहीं हैं, ने टूलकिट तैयार की थी। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios