Asianet News HindiAsianet News Hindi

पेड़ों की अवैध कटाई की खबर सुनकर आधी रात चोरों को पकड़ने पहुंच गया यह मुख्यमंत्री

त्रिपुरा के सीएम बिप्लब कुमार देब राज्य का औचक दौरा कर रहे हैं। इसी क्रम में मंगलवार की रात वे अगरतला से करीब 160 किलोमीटर दूर कंचनपुर के दौरे पर थे। वहां से वापसी के दौरान करीब 11 बजे बारामुरा के जंगलों से गुजरते वक्त सीएम की पेड़ काट रहे लोगों पर पड़ी। जिन्हें उन्होंने रंगे हाथों पकड़ लिया। 

CM reached to catch red-handed Illegal tree harvesters kps
Author
Agartala, First Published Dec 25, 2019, 11:55 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अगरतला. त्रिपुरा के सीएम विप्लव देव ने अपने अलग कार्य पद्धति के लिए जाने जाते है। अक्सर जनहित के कार्यों को लेकर चर्चा में रहने वाले विपल्ब देव अब एक बार फिर चर्चा में आ गए है। जब आधी रात को अवैध तरीके से पेड़ों की कटाई कर रहे तीनों लोगों को उन्होंने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। दरअसल, सीएम बिप्लब देव रात में औचक निरीक्षण के लिए निकले थे। इस दौरान उन्होंने पेड़ों की कटाई करने वालों को रंगे हाथों पकड़ लिया। 

वन संरक्षण के लिए सरकार प्रतिबद्ध

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने पुलिस और वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को अवैध पेड़ कटाई के मामले की पड़ताल कर दोषियों को दंडित करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी सरकार वन संरक्षण के प्रति पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। अवैध वन कटाई करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

कंचनपुर के औचक दौरे पर थे सीएम 

मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब इन दिनों राज्य का औचक दौरा कर रहे और लोगों की समस्याओं को सुन रहे हैं। इसी क्रम मंगलवार रात वे अगरतला से करीब 160 किलोमीटर दूर कंचनपुर के दौरे पर थे। वहां से वापसी के दौरान करीब 11 बजे बारामुरा के जंगलों से गुजरते वक्त मुख्यमंत्री की नजर पेड़ काट रहे लोगों पर पड़ी। जिसके बाद सीएम ने गाड़ी रुकवाकर मामले की जांच करने घटनास्थल पर पहुंचे। इस बीच मुख्यमंत्री के साथ उनकी सुरक्षा के लिए मौजूद पुलिसकर्मियों ने उन तीनों आरोपियों को पकड़ा। 

तस्करों ने सीएम से बोला झूठ 

मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार ने उन लोगों से जब पूछा कि पेड़ क्यों और किसकी अनुमति से काट रहे हो? इस पर तीनों व्यक्तियों ने झूठ बोला कि पेड़ पुराना है इसलिए काट रहे हैं। तीनों आरोपियों के इस जबाव से मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब संतुष्ट नहीं हुए नहीं हुए। मौके पर जांच में उन्होंने पाया कि पेड़ अभी काटा गया है। उन्होंने तीनों व्यक्तियों को स्थानीय पुलिस के हवाले किया। वे तीनों दोषी किसी और व्यक्ति का भी नाम ले रहे थे। मुख्यमंत्री देब ने पुलिस को उक्त व्यक्ति को भी गिरफ्तार करने के निर्देश दिए हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios