Asianet News Hindi

राजस्थान में सेक्स रैकेट की खबर पर राज्यवर्धन सिंह राठौर ने साधा निशाना, कहा- शर्म करो ऑटो पायलट सरकार

राजस्थान के सवाई माधोपुर में कांग्रेस की जिला स्तर की पूर्व महिला पदाधिकारी का शर्मनाक चेहरा सामने आया है। दरअसल, वो जिले में सेक्स रैकेट चला रही थीं। वो कांग्रेस के पूर्व पदाधिकारी तो थी हीं साथ ही भाजपा की भी जिला स्तर की महिला पदाधिकारी थीं।

Col Rajyavardhan Rathore Twittes on sawai madhopur racket Said Shame on Auto pilot Sarkar KPY
Author
Sawai Madhopur, First Published Oct 2, 2020, 3:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

सवाई माधोपुर. राजस्थान के सवाई माधोपुर में कांग्रेस की जिला स्तर की पूर्व महिला पदाधिकारी का शर्मनाक चेहरा सामने आया है। दरअसल, वो जिले में सेक्स रैकेट चला रही थीं। वो कांग्रेस के पूर्व पदाधिकारी तो थी हीं साथ ही भाजपा की भी जिला स्तर की महिला पदाधिकारी थीं। इस मामले में भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व जिलाअध्यक्ष सुनीता उर्फ संपत्ति बाई को गिरफ्तार किया जा चुका है। जबकि, कांग्रेस सेवादल महिला प्रकोष्ठ की पूर्व जिलाध्यक्ष पूजा उर्फ पूनम चौधरी अभी गिरफ्त से दूर हैं। ऐसे में इस मामले को उठाते हुए बीजेपी नेता राज्यवर्धन राठौर ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। 

राज्यवर्धन ने किया ट्वीट

भाजपा के सांसद, ओलंपिक मेडलिस्ट और बीजेपी के स्पोकपर्सन राज्यवर्धन राठौर ने अखबार की एक कटिंग शेयर की है। जिसमें महिला द्वारा सेक्स रैकेट चलाने की खबर लिखी गई है। इस कटिंग को शेयर करते हुए लिखा, 'जब भी कोई खुलासा होता है तो राजस्थान की कांग्रेस सरकार उसे भाजपा से जोड़कर देखती है और महिलाओं को सेक्स के रूप में गाली देती है। एक ऐसी ही घटना सेवई माधोपुर में सामने आई है। शर्म करो ऑटो पायलेट सरकार। महिलाओं का अपमान कोई भी कहीं नहीं बर्दाश्त कर सकता है।'

 

पीड़िता ने खोला राज

इस सेक्स रैकेट का खुलासा एक पीड़िता ने किया है। उसने बताया कि भाजपा और कांग्रेस की इन दोनों जिले स्तर की पदाधिकारियों द्वारा कुछ दूसरे लोगों के साथ मिलकर सामंजस्य से बड़े स्तर पर सेक्स रैकेट चलाया जा रहा है। इसके तार सवाई माधोपुर और बाहर दूसरे बड़े शहरों से जुड़े हैं। अहम बात ये है कि इन दोनों महिला पदाधिकारियों में से एक पूर्व में अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर इस बात का जिक्र कर चुकी है कि उनकी पार्टी में बहुत बड़ी संख्या में चरित्रहीन लोग भरे हुए हैं। वो उनके नाम भी जानती है और कर्म भी उसने दावा किया था कि वो वक्त आने पर उनके नाम भी खोलेगी। पिछले पांच दिनों से रिमांड पर चल रही महिला पदाधिकारी ने उन चरित्रहीन लोगों के नाम निकलवाने की जिम्मेदारी अब पुलिस की है, पर वो ऐसा कुछ कर नहीं रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios