Asianet News Hindi

कांग्रेस ने कहा, SC का फैसला राजनीति के शुद्धीकरण के लिए है, बड़ी लड़ाई की जीत

पार्टी ने इसे राजनीति के अपराधीकरण के खिलाफ राहुल गांधी द्वारा लड़ी जा रही लड़ाई में जीत करार दिया।

Congress Leader Jaiveer Shergill Slams BJP Calls Party Shelter For Criminals kpm
Author
New Delhi, First Published Feb 13, 2020, 6:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। कांग्रेस ने आरोपी नेताओं को टिकट देने के संदर्भ में उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद बृहस्पतिवार को कहा कि यह राजनीति के शुद्धिकरण की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। पार्टी ने इसे राजनीति के अपराधीकरण के खिलाफ राहुल गांधी द्वारा लड़ी जा रही लड़ाई में जीत करार दिया।

पार्टी प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने भाजपा पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि भाजपा को अब अपने उम्मीदवारों एवं जन प्रतिनिधियों के खिलाफ दर्ज आपराध के मामलों की सही जानकारी जनता के समक्ष रखनी चाहिए। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘उच्चतम न्यायालय ने एक ऐतिहासिक निर्णय दिया है जो राजनीति के शुद्धिकरण के लिए है। इस फैसले का हम स्वागत करते हैं। यह स्वच्छ राजनीति की दिशा में आगे बढ़ने में मील का पत्थर साबित होगा।’’

राहुल की लड़ाई को जीत मिली 
शेरगिल ने कहा, ‘‘इससे राहुल गांधी की उस लड़ाई की जीत हुई जो वह राजनीति के अपराधीकरण के खिलाफ लड़ते आए हैं और लड़ रहे हैं।’’ उन्होंने दावा किया, ‘‘एक रिपोर्ट के अनुसार लोकसभा चुनाव में 42 फीसदी भाजपा उम्मीदवारों के खिलाफ अपराध के मामले दर्ज थे। भाजपा के 92 सांसदों के खिलाफ गंभीर अपराध के मामले दर्ज हैं। यह इनकी नीयत और नीति को दिखाता है।’’

कांग्रेस प्रवक्ता ने भाजपा पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया और सवाल किया कि क्या भाजपा अपने उम्मीदवारों को लेकर सही जानकारी सामने रखेगी?

सुप्रीम कोर्ट ने मांगा है ब्यौरा 
दरअसल, उच्चतम न्यायालय ने राजनीति के अपराधीकरण में वृद्धि पर चिंता जाहिर करते हुए बृहस्पतिवार को सभी सियासी दलों को निर्देश दिया कि वे चुनाव लड़ रहे अपने उम्मीदवारों के खिलाफ लंबित आपराधिक मामलों का ब्यौरा अपनी वेबसाइट पर अपलोड करें। शीर्ष अदालत ने कहा कि सियासी दलों को वेबसाइट पर यह भी बताना होगा कि उन्होंने ऐसे उम्मीदवार क्यों चुनें जिनके खिलाफ आपराधिक मामले लंबित हैं।

(ये खबर पीटीआई/भाषा की है। एशियानेट हिन्दी न्यूज ने सिर्फ हेडिंग में बदलाव किया है।) 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios