Asianet News HindiAsianet News Hindi

झारखंड के कांग्रेस विधायक ने कहा - ज्यादा मास्क पहनने की जरूरत नहीं... लोग बोले - यह जामताड़ा का एक और घोटाला

झारखंड के जामताड़ा (Congress Mla from Jamtara) से कांग्रेस विधायक डॉ. इरफान अंसारी (Dr. irfan ansari) का कहना है कि लंबे समय तक मास्क (Face mask) का उपयोग नहीं करना चाहिए। अंसारी ने कहा कि ये बात मैं एक एमबीबीएस डॉक्टर (MBBS DOCTOR) के तौर पर कह रहा हूं कि भीड़ में ही मास्क का उपयोग करना चाहिए,

Congress mla said mask is not important social media users said one more scam from jamtara
Author
Ranchi, First Published Jan 11, 2022, 4:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रांची। कोविड की तीसरी लहर (Covid 19 Third wave) के दौरान बढ़ते मामलों से पूरे देश में चिंता है। नेता, अभिनेता रोज कोविड पॉजिटिव आ रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी से लेकर स्वास्थ्य मंत्री तक रोज बैठकें ले रहे हैं, लेकिन इस बीच झारखंड के कांग्रेस विधायक का एक चौंकाने वाला बयान सामने आया है। दरअसल, मंगलवार को कांग्रेस विधायक डॉ. इरफान अंसारी अपने दफ्तर में लोगों के बीच बिना मास्क बैठे थे। इस पर मीडियाकर्मियों ने उनसे पूछ लिया कि आपके स्वास्थ्य मंत्री कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। मिथिलेश ठाकुर भी कोरोना पॉजिटिव हैं। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगता है कि आप भूल गए हैं। 

इस सवाल पर जामताड़ा से कांग्रेस विधायक डॉ. इरफान अंसारी कहते हैं कि ज्यादा मास्क का उपयोग नहीं करना चाहिए। यह मैं एक विधायक के तौर पर नहीं, बल्कि डॉक्टर के तौर पर बता रहा हूं। मीडियाकर्मी ने उनसे पूछा कि आप भीड़भाड़ में थे, तो क्या फिर भी मास्क नहीं पहनना चाहिए। इस पर विधायक बोले -  आप कार्बन डाई ऑक्साइड छोड़ रहे हैं, उसी को इन्हेल कर रहे हैं... यह क्या है। कि लंबे समय तक मास्क का उपयोग नहीं करना चाहिए। अंसारी ने कहा कि ये बात मैं एक एमबीबीएस डॉक्टर के तौर पर कह रहा हूं कि भीड़ में ही मास्क का उपयोग करना चाहिए, लेकिन यह ज्यादा लंबे समय तक नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि Covid 19 की तीसरी लहर से घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि इसके लक्षण दो-तीन दिन में खत्म हो जाते हैं। एजिथ्रोमाइसिन खा लीजिए, पैरासिटामॉल खा लीजिए। ठीक हो जाएंगे।

सोशल मीडिया पर भड़के लोग 
कांग्रेस विधायक के इस बयान पर लोगों ने उन्हें आड़े हाथों लिया। अंकित सिंह नाम के एक यूजर ने लिखा - ये मदरसे का लॉजिक मत दो। देश के लोग वैसे ही पागल हैं। कुछ भी करने लगेंगे। सोम नाम के एक यूजर ने कहा- WHO आप सुन रहे हैं। आप अपनी टीम तुरंत भेजें और उसे डॉक्टर इरफान से ट्रेनिंग दिलाएं। नेशनलिस्ट नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा - यह अच्छा प्लान है। पहले ऐसी बातें कहो, फिर केस बढ़ने को लेकर केंद्र सरकार पर हमला करो। एक यूजर ने कहा- वह सही कह रहे हैं। इस पर अन्य यूजर्स ने कहा- वह गलत हैं। यह वैरिएंट बहुत तेजी से फैल रहा है। एक यूजर ने कहा- जामताड़ा का एक और घोटाला।

 

तीसरी लहर में रोज आ रहे 1.80 लाख तक केस
देश में तीसरी लहर की शुरुआत से ही नए मामलों की संख्या तेजी से बढ़ी है। 22 दिसंबर को देश में रोजाना 6 हजार नए केस आ रहे थे जो अब 1.80 लाख केस प्रतिदिन तक पहुंच गए हैं। विशेषज्ञों की सलाह है कि मास्क का उपयोग आपको सुरक्षित रखने के लिए बेहद आवश्यक है। तीसरी लहर से बचने के लिए देश में 15 से 17 साल के किशोरों के अलावा 10 जनवरी से बुजुर्गों को तीसरी डोज (Precautionary dose) देना भी शुरू हो गया है। 

मास्क क्यों जरूरी 
कोरोना के मामलों में गिरावट के बाद लोगों ने मास्क पहनना कम कर दिया। इसके बाद जनवरी में अचानक तेजी से मामले बढ़े। स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी माना था कि हाल के दिनों में मास्क का इस्तेमाल में गिरावट आई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी कहा है कि हमें अपने जीवन में फेस मास्क के उपयोग को सामान्य प्रक्रिया के रूप में शामिल कर लेना चाहिए। बीएचयू के न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. विजयनाथ ने भी कहा था कि बचाव के लिए मास्क पहनना बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें
देश में कोरोना के 1.68 लाख नए केस, पिछले दिन के मुकाबले कम, दिल्ली में सभी निजी दफ्तर होंगे बंद
तो सामान्य सर्दी-जुकाम के बाद शरीर में बनने वाली एंटीबॉडी देगी COVID-19 से सुरक्षा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios